अब विदेश में पलेगी कटिहार की अनन्या, इटली की दंपति ने कानूनी रूप से अपनाया

पेशे से शिक्षिका इलियाना कहती हैं, आज से अनन्या इंडो-इटालियन परिवार के सदस्य है. इलियाना ने जाते-जाते लोगों को भरोसा दिलाया कि कि आगे वह इस बच्ची को बेहतर जिंदगी देंगी.

News18 Bihar
Updated: April 4, 2019, 8:07 PM IST
अब विदेश में पलेगी कटिहार की अनन्या, इटली की दंपति ने कानूनी रूप से अपनाया
इटली की दंपति ने कटिहार की अनन्या को गोद लिया
News18 Bihar
Updated: April 4, 2019, 8:07 PM IST
'देवकी ने छोड़ा यशोदा ने अपनाया'... देश की बेटी अब इंडिया को बाय-बाय कर विदेशी माता पिता के साथ इटली के उड़ान पर जा रही है. कहानी कटिहार के दत्तक केंद्र में पल रही चार साल की विशेष बच्ची अनन्या की है. कटिहार बाल विकास संगरक्षण इकाई के कार्यालय पहुंच कर इटली के दंपति रॉबर्ट ब्रेंडु और इलियाना ने तमाम कागजी प्रक्रिया पूरी की और कानूनी रूप से अनन्या के माता-पिता बने.

ये दंपति इस बच्ची के बाकायदा माता पिता बनकर अनन्या को अपने साथ ले गए. पेशे से शिक्षिका इलियाना कहती हैं, आज से अनन्या इंडो-इटालियन परिवार के सदस्य है. इलियाना ने जाते-जाते लोगों को भरोसा दिलाया कि कि आगे वह इस बच्ची को बेहतर जिंदगी देंगी. उनकी कोशिश ये रहेगी कि उन्हें भारतीय परम्पराओं से भी जोड़कर भी शिक्षा दी जाय. जबकि अनन्या के पिता बन कर रॉबर्ट ब्रेंडु कहते हैं कि ये उनके लिए बेहद खुशी का पल है.



पेशे से शिक्षिका इलियाना और रॉबर्ड ब्रुडे ने अनन्या को कानूनी रूप से गोद लिया और माता-पिता बने


जिला बाल विकास परियोजना पदाधिकारी बेबी रानी ने दत्तक केंद्र से विदेशी माता पिता के गोद तक पहुंची अनन्या के अपनाने की पूरी प्रक्रिया की आधिकारिक जानकारी दी. उन्होंने कहा कि इस विशेष बच्ची को विदेशी दंपति द्वारा गोद लेने की इच्छा जताई गई थी. जिस पर भारत सरकार द्वारा तमाम कागजी प्रक्रिया पूरा कर बच्ची को विदेशी दंपति को सौप दिया गया है.

दरअसल यह एक नजीर है उन माता-पिता के लिए जो नवजात बेटियों को सड़कों और कचरादानों में छोड़ जाते हैं. ऐसे में एक विदेशी दंपति द्वारा इस अनाथ बेटी का मां-बाप बन उसे एक बेहतर जिंदगी देने की नायाब कोशिश को सलाम.

रिपोर्ट- सुब्रत गुहा
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...