फरार हैं गुरु! नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ जारी हो सकता है गिरफ्तारी वारंट, कुर्की का भी खतरा
Katihar News in Hindi

फरार हैं गुरु! नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ जारी हो सकता है गिरफ्तारी वारंट, कुर्की का भी खतरा
बिहार पुलिस का समन रिसीव नहीं कर रहे नवजोत सिंह सिद्धू

आरोप है कि कटिहार के बारसोई थाना कांड संख्या 93/ 19 के आरोपी नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) फरार चल रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 24, 2020, 10:42 PM IST
  • Share this:
कटिहार. पूर्व क्रिकेटर व कांग्रेस के नेता नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) बिहार पुलिस के समक्ष हाजिर नहीं हो रहे हैं, ऐसे में पुलिस सख्त कदम भी उठा सकती है. बताया जा रहा है कि कटिहार से अमृतसर गई जिला पुलिस के समक्ष वे  26 जून तक सामने नहीं आए और जमानत बॉंड पर हस्ताक्षर नहीं किया तो उनके खिलाफ गिरफ्तारी वारंट के लिए पुलिस कोर्ट में आवेदन दे सकती है. कटिहार के आरक्षी अधीक्षक विकास कुमार (Katihar SP Vikas Kumar) के अनुसार इसी कांड के जांच के लिए जांच अधिकारी जनार्दन राम और जावेद आलम को अमृतसर भेजा गया है, लेकिन सिद्धू ने समन रिसीव नहीं किया है. हालांकि बुधवार को पुलिस ने उनके आवास पर नोटिस भी चिपका दिया है.

क्या कह रही है कटिहार पुलिस
कटिहार पुलिस का कहना है कि समन रिसीव नहीं करते हैं तो उनके खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी हो सकता है. एसपी विकास कुमार ने जानकारी दी कि 26 जून तक दोनों पुलिस पदाधिकारी वहीं रहेंगे और समन रिसीव करवाने की कोशिश करेंगे. अगर उन्होंने समन नहीं लिया और जमानत बॉंड पर सिग्नेचर नहीं किया तो जांच के आधार पर कोर्ट से गिरफ्तारी के लिए प्रे किया जा सकता है. बताया जा रहा है कि अगर कोर्ट चाहेगी तो कुर्की की भी प्रक्रिया शुरू की जा सकती है.


कटिहार के बारसोई थाने में दर्ज है केस


बता दें कि कटिहार के बारसोई थाना कांड संख्या 93/ 19 के आरोपी नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) फरार चल रहे हैं. सिद्धू पर आरोप है कि 16 अप्रैल 2019 को कांग्रेस प्रत्याशी तारिक अनवर के पक्ष में चुनाव प्रचार कर ने के दौरान भड़काऊ भाषण दिया था. इस पर कई लोगों ने भावनाएं भड़काने का आरोप लगाया था. इसके बाद सिद्धू के खिलाफ कटिहार के बारसोई थाने में केस किया गया था.

लोकसभा चुनाव में दिया था विवादित बयान
एसपी ने बताया कि नवजोत सिंह सिद्धू ने कटिहार में चुनाव प्रचार के दौरान बलरामपुर विधान सभा में विवादित भाषण दिया था. इसमें उन्होंने संबोधित करते हुए मुस्लिम मतदाताओं से कहा था कि  'आप (मुस्लिम समुदाय) यहां अल्पसंख्यक होकर भी बहुसंख्यक हैं. आप अगर एकजुटता दिखाएंगे तो आपके प्रत्याशी तारिक अनवर को कोई भी नहीं हरा सकता है.'

सिद्धू पर भावनाएं भड़काने का है आरोप
सिद्धू ने भाषण के दौरान कहा, 'आपकी आबादी यहां 64 फीसदी है. यहां के मुसलमान हमारी पगड़ी हैं. अगर आपको कोई दिक्कत हो तो मुझे याद करना. मैं पंजाब में भी आपका साथ दूंगा.' सिद्धू ने विरोधियों पर निशाना साधते हुए कहा, 'ये लोग आपको बांट रहे हैं. मुसलमानों को बांट रहे हैं. ओवैसी जैसे लोगों को लाकर वोट बांट कर जीतना चाहते हैं.'

कटिहार के बारसोई थाने में दर्ज है मामला
इसके साथ ही उन्होंने कहा, 'आप लोग इकठ्ठे होकर 64 फीसदी के साथ आए तो सब उलट जाएंगे और मोदी सलट (हार जाएंगे) जाएंगे. इस बार के चुनाव में ऐसा छक्का मारो कि मोदी बाउंड्री से पार चला जाए.' सिद्धू के इस बयान पर कई नेताओं ने आपत्ति दर्ज की थी और बारसोई थाने में केस दर्ज किया गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading