• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • एयरपोर्ट से 12 मजदूरों के शव पहुंचे कटिहार, मातमी चीख से शोक में डूबा इलाका

एयरपोर्ट से 12 मजदूरों के शव पहुंचे कटिहार, मातमी चीख से शोक में डूबा इलाका

इलाके के सांसद दुलालचंद्र गोस्वामी, अति पिछड़ा कल्याण मंत्री विनोद कुमार सिंह और जिला प्रशासन के कई अधिकारी गांव में मौजूद थे. सबसे पहले शवों को बघार गांव के प्रथामिक विद्यालय में रखा गया.

  • Share this:
    महाराष्ट्र के पूणे में सोशयटी की दीवार ढ़हने से बिहार के मजदूरों की मौत के बाद 12 शवों को उनके गांव पहुंचाया गया है. महाराष्ट्र के पूणे से फ्लाइट द्वारा मजदूरों का शव पश्चिम बंगाल के बागडोगरा एयरपोर्ट पहुंचा. वहां से सेना के एयर एम्बुलेंस से शवों को सात एम्बुलेंस से देर शाम जिले के बलरामपुर प्रखंड के गांव तक शवों को पहुंचाया गया.

    गांव में शवों के पहुंचते ही चारों तरफ मातमी चीख से पूरा इलाका शोक में डूब गया. इस दौरान इलाके के सांसद दुलालचंद्र गोस्वामी, अति पिछड़ा कल्याण मंत्री विनोद कुमार सिंह और जिला प्रशासन के कई अधिकारी गांव में मौजूद थे. सबसे पहले शवों को बघार गांव के प्रथामिक विद्यालय में रखा गया. इसके बाद मृतकों के परिजनों को 12 शव बारी-बारी से सौंपे जाएंगे.

    एम्बुलेंस द्वारा एयरपोर्ट से शवों को कटिहार लाया गया.


    सोशयटी की दीवार ढ़हने से हुआ था हादसा

    गौरतलब है कि महाराष्ट्र में भारी बारिश के चलते पुणे की एक सोसायटी की दीवार ढ़ह गई थी. जिसके चलते कई मजदूरों की उसमें दबने से मौत हो गई थी. इन मजदूरों में 12 बिहार के कटिहार जिले के गांव बघार गांव के थे. इन मजदूरों के शवों को लेकर भारतीय सेना का एयर एम्बुलेंस पश्चिम बंगाल के बागडोगरा एयर पोर्ट पहुंचा. जहां से शवों को सात अलग-अलग एम्बुलेंस में रखकर कटिहार पहुंचाया गया.

    15 लोगों की मौत

    बता दें कि 29 जून को पुणे स्थित कोंढवा में एक सोसायटी की एक दीवार गिरने से 15 लोगों की मौत हो गई थी. कोंढवा पुलिस थाने के एक अधिकारी ने हादसे की जानकारी दी थी. उन्होंने कहा था कि हादसे में 15 लोग (चार बच्चों, दो महिलाओं और नौ पुरुष) मारे गए और तीन अन्य घायल हुए थे. वहीं दमकल विभाग के एक अधिकारी ने बताया था कि पीड़ित बिहार और उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं.

    इस मामले पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडवणीस ने दुख जताया था. उन्होंने मामले की पुणे कलेक्टर से जांच के आदेश दे दिए थे. वहीं डीएम नवल किशोर राम ने कहा था कि इतने लोगों की मौत कोई छोटी मोटी घटना नहीं है. वहीं राजस्व मंत्री ने मृतकों के परिजनों के लिए 5 लाख रुपए मुआवजे का ऐलान किया था.

    यह भी पढ़ें: 

     

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज