इस दुर्गा मंदिर में नारियल चढ़ाने से मनोकामना होती हैं पूरी

ETV Bihar/Jharkhand
Updated: September 29, 2017, 7:42 PM IST
इस दुर्गा मंदिर में नारियल चढ़ाने से मनोकामना होती हैं पूरी
सार्वजनिक मनोकामना वैष्णवी दुर्गा मंदिर, कटिहार (ईटीवी फोटो)

कटिहार में डूमर प्रखंड के समेली स्थित सार्वजनिक मनोकामना वैष्णवी दुर्गा मंदिर में नारियल चढ़ाने से लोगों की मन्नतें पूरी होती है.

  • Share this:
कटिहार में डूमर प्रखंड के समेली स्थित सार्वजनिक मनोकामना वैष्णवी दुर्गा मंदिर में नारियल चढ़ाने से लोगों की मन्नतें पूरी होती है. यह मंदिर कटिहार जिला मुख्यालय से 35 किलोमीटर दूर है.

1879 में स्वर्गीय जागेश्वर प्रसाद सिन्हा के द्वारा पहले शिव मंदिर की आधारशिला रखी गई थी, तब गांव में कोई दुर्गा मंदिर नहीं हुआ करता था. गांव के श्रद्धालु 10 से 12 किलोमीटर की दूरी तय कर कुर्सेला अथवा गेराबाड़ी दुर्गा मंदिर में पूजा अर्चना करने को जाते थे, जिससे श्रद्धालुओं को काफी परेशानी होती थी.

श्रद्धालुओं की परेशानी को देखते हुए गांव के लोगों ने वर्ष 2010 में दुर्गा मंदिर की स्थापना की. इस मंदिर के निर्माण में अंगिका भाषा के गायक सुनील छैला बिहारी ने भी अहम भूमिका निभाई है. यहां दशहरा के मौके पर मंदिर में चढ़ावे के रूप में नारियल और चुनरी चढ़ाने का रिवाज है. ऐसी मान्यता है कि जो भी दुर्गा पुजा के समय अपनी मन्नतें लेकर आते हैं, उनकी मनोकामना पूरी होती है. इसलिए0 इस मंदिर को लोग मनोकामना पूर्ण मंदिर के नाम से भी जानते हैं.

इस मंदिर में किसी भी जीव की बलि नहीं दी जाती है. वैसे तो इस मंदिर में सालों भर लोग अपनी-अपनी मनोकामना के लिए पूजा-पाठ करने आते रहते हैं परंतु दुर्गा पूजा के अवसर पर भक्तों की अपार भीड़ होती है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कटिहार से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 29, 2017, 7:42 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...