• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • बिहार: मानते हैं इस्लाम पर इस जाति के लोगों को मुस्लिम कब्रगाह में शव दफनाने की नहीं है इजाजत

बिहार: मानते हैं इस्लाम पर इस जाति के लोगों को मुस्लिम कब्रगाह में शव दफनाने की नहीं है इजाजत

कटिहार में नट जाति के कब्रिस्तान पर हो रहा अतिक्रमण.

कटिहार में नट जाति के कब्रिस्तान पर हो रहा अतिक्रमण.

नट जाति (Nut Caste) के लोग इस्लाम (Islam) को फॉलो करते हैं, लेकिन मुस्लिम कब्रगाहों (Burial ground) में उन लोगों को शव दफनाने की अनुमति नहीं है.

  • Share this:
कटिहार. नट जाति के लोगों के लिए बना एक मात्र कब्रगाह (Burial ground) का हाल बदहाल है. कभी इसी समाज के लोगों के द्वारा गौशाला मोहल्ले में दिए गए पांच एकड़ की कब्रगाह में अब अतिक्रमण होता जा रहा है. दरअसल, इसमें चहारदीवारी का निर्माण नहीं हो पाया है, ऐसे में इसपर अतिक्रमण रोकने में भी मुश्किल हो रही है. बड़ी बात यह है कि मुसलमान समुदाय (Muslim community) से होने और इस्लाम धर्म को मानने के बावजूद नट जाति के लोगों को मुसलमानों के कब्रिस्तान (Cemeteries) में दफनाने की अनुमति नहीं है. ऐसे में नट जाति के लगभग दो हज़ार लोगों को अपने परिजनों की मौत के बाद उन्हें मिट्टी मंजिल (दफनाने) में काफी परेशानी होती है.

नट जाति के फिरोज खलीफा कहते हैं 1942 में उनके चाचा संतलाल खलीफा की मौत के बाद उनके पिताजी ने अपने भाई को सुपुर्द-ए- खाक करने के बाद इस इलाके में कब्रगाह के लिए यह जमीन खरीद कर सरकार को दान में दे दी थी. लेकिन, अब तक इस  कब्रगाह की घेराबंदी तक नहीं हुई है. इस कारण  काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है.

इकराम खलीफा कहते हैं कि वह लोग इस्लाम धर्म को ही मानते हैं, लेकिन नट जाति के होने के कारण जिले के अन्य कब्रगाहों में उन लोगों को अपने परिजनों को दफनाने की अनुमति नहीं है. इसलिए वे लोग सरकार और प्रशासन से इस कब्रगाह को घेराबंदी कर इस कब्रगाह का कायाकल्प करने की मांग कर रहे हैं.

उधर, जिला औकाफ कमेटी  के सचिव मुजीबउर रहमान कहते हैं कि हो सकता है कि अल्पसंख्यक कार्यालय को नट जाति को लेकर कोई भ्रम है. ये लोग अगर इस्लाम को मानते हैं और अल्पसंख्यक समुदाय से हैं तो आवेदन के साथ आधार कार्ड लगाकर जिला औकाफ कमेटी  में आवेदन करें. निश्चित तौर पर विभाग की तरफ से उन लोगों की मांग पर विचार करते हुए इसके कायाकल्प का कोशिश की जाएगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज