कटिहार: दवा व्यवसायी से 3 लाख रुपये की 'डिजिटल ठगी', बैंक मैनेजर पर केस दर्ज

दवा व्यवसायी ऋषि केशवानी ने बताया कि बैंक ऑफ इंडिया शाखा में उनका खाता है. 16 फरवरी को एक क्लोन चेक के सहारे उनके अकाउंट से वाजिद अली नामक किसी व्यक्ति के बैंक अकाउंट में तीन लाख रुपया भेज दिया गया.

News18 Bihar
Updated: May 3, 2019, 3:08 PM IST
कटिहार: दवा व्यवसायी से 3 लाख रुपये की 'डिजिटल ठगी', बैंक मैनेजर पर केस दर्ज
कटिहार में दवा व्यवसायी से 3 लाख रुपये का फर्जीवाड़ा
News18 Bihar
Updated: May 3, 2019, 3:08 PM IST
बिहार के कटिहार में डिजिटल ठगी का मामला सामने आया है. पहले चेक का क्लोन बनाया फिर फर्जी सिग्नेचर कर तीन लाख रुपया निकाल लिया. हैरत की बात ये है कि मामले के तीन महीने हो गए लेकिन इस मामले में बैंक रुचि नहीं ले रहा है. तंग आकर दवा व्यवसायी ने नगर थाना में बैंक मैनेजर समेत दो लोगों पर मामला दर्ज करवा दिया है.

घटना के बारे में दवा व्यवसायी ऋषि केशवानी ने बताया कि बैंक ऑफ इंडिया शाखा में उनका खाता है. 16 फरवरी को एक क्लोन चेक के सहारे उनके अकाउंट से वाजिद अली नामक किसी व्यक्ति के बैंक अकाउंट में तीन लाख रुपया भेज दिया गया. बैंक द्वारा निर्गत चेक के मूल  प्रति अब भी व्यवसायी के पास सुरक्षित है.



ये भी पढ़ें- नीतीश का तंज, 'माल बनाने के चक्कर में जेल गए तो कह रहे हैं हमें फंसाया गया'

बहरहाल कई महीनों तक बैंक के चक्कर लगाने के बाद बैंक अब भी इस मामले में कोई मदद का भरोसा नहीं दे रहा है. आजिज आकर  दवा व्यवसायी ने नगर थाना में बैंक ऑफ इंडिया कटिहार बाजार शाखा के प्रबंधक संजीव कुमार सहित एक और आदमी को आरोपी बनाते हुए नगर थाना में मामला दर्ज करा दिया है.

आगे उपभोक्ता फोरम में भी जाने की बात कह रहे हैं. फिलहाल पुलिस ने व्यवसायी के आवेदन के आधार पर मामला दर्ज करते हुए जांच शुरू कर दिया है. जबकि बैंक ऑफ इंडिया कटिहार प्रबंधन ने इस पर कुछ भी कहने से साफ इंकार कर दिया है.

रिपोर्ट- सब्रत गुहा

ये भी पढ़ें-
Loading...

तेजप्रताप बोले- तलाक का फैसला अडिग, वोटों के लिए बयान दे रहे हैं मेरे ससुर


बोले केसी त्यागी- 'वंदे मातरम NDA का नारा नहीं, न ही संयुक्त सभाओं कार्यक्रम'


तारिक अनवर बोले- 'पार्टी तय करेगी कि शत्रुघ्न सिन्हा पत्नी धर्म निभाएंगे या पार्टी धर्म'

Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...