स्पेशल स्क्रीनिंग में प्रदर्शित हुई '1946 कोलकाता किलिंग', मंत्री और विधायक ने देखी फिल्म

इस फिल्म को देखने के लिए बिहार सरकार के मंत्री विनोद सिंह के साथ-साथ सदर विधायक और बिहार विधानसभा में भाजपा के सचेतक तारकेश्वर प्रसाद के अलावा कई प्रबुद्ध नागरिक भी बसंत टाकीज पहुंचे

News18 Bihar
Updated: May 11, 2018, 10:31 PM IST
News18 Bihar
Updated: May 11, 2018, 10:31 PM IST
बंगाल में अघोषित रूप से बैन होने के बाद शुक्रवार को कटिहार के सिनेमाघर में स्पेशल स्केनिंग शो में '1946 कोलकाता किलिंग' प्रदर्शित की गई. इस फिल्म को देखने के लिए बिहार सरकार के मंत्री विनोद सिंह के साथ-साथ सदर विधायक और बिहार विधानसभा में भाजपा के सचेतक तारकेश्वर प्रसाद के अलावा कई प्रबुद्ध नागरिक भी बसंत टाकीज पहुंचे.

देश के विभाजन की थीम पर बनी यह फिल्म बंगाल की पृष्ठ भूमि पर आधारित है। बड़ी बात यह है इस फिल्म के पठकथा लेखक पार्थो मित्रा की जन्मभूमि कटिहार ही है, इसीलिए इस फिल्म को बिहार से बहुत उम्मीदें हैं। फिल्म की स्पेशल स्क्रीनिंग के दौरान फिल्म से जुड़े कलाकार भी मौजूद थे.

वहीं बिहार सरकार के मंत्री ने इस फिल्म की खूब सराहना की. पार्टी के आदर्श श्यामा प्रशाद मुखर्जी के बारे में जानने के लिए '1946 कोलकाता किलिंग' देखने की लोगों से अपील की, जबकि सत्ता पक्ष के सचेतक तारकेश्वर प्रसाद ने फिल्म के साथ-साथ पार्थो दा की मेहनत की खूब सराहना की.

वहीं अपने पुराने दिनों को याद करते हुए पार्थों ने कटिहार के साथ-साथ बिहार और झारखण्ड में भी इस फिल्म को अच्छा रिस्पॉन्स मिलने की उम्मीद जताई. उन्होंने कहा कि इस फिल्म को 2019 में बंगाल की राजनीति पर प्रभाव डालने से जोड़कर देखना सरासर गलत है. सभी मानकों में खरा उतर कर यह फिल्म देश भर में प्रदर्शित हुई है और इसमें किसी के लिए कुछ भी गलत नहीं है.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...