बाबरी कांड की बरसी पर बिहार के सीमांचल में PFI ने लगवाए आपत्तिजनक पोस्टर, केस दर्ज

बिहार के कटिहार और सीमांचल के कई इलाकों में पोपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया द्वारा चस्पा करवाए गए पोस्टर

बिहार के कटिहार और सीमांचल के कई इलाकों में पोपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया द्वारा चस्पा करवाए गए पोस्टर

पीएफआई (PFI) की इस हरकत पर कई सामाजिक संगठनों और सुन्नी वक्फ बोर्ड के सचिव मुजीबुर्र रहमान ने कड़ी आपत्ति जताते हुए कहा कि यह सौहार्द बिगाड़ने का प्रयास है, जब सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के फैसले से इस विवाद का हल निकल चुका है तो इस तरह के पोस्टर लगाकर बखेड़ा खड़ा करने का क्या मतलब है

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 6, 2020, 11:28 PM IST
  • Share this:
कटिहार. सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद बाबरी मस्जिद (Babri Mosque) से जुड़े विवाद पर दोनों पक्ष में सहमति के साथ वहां राम मंदिर (Ram Temple) बनने का निर्णय का पूरे देश ने स्वागत किया था. लेकिन बिहार के कटिहार (Katihar) समेत सीमांचल के कई इलाकों में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (Popular Front Of India) द्वारा छह दिसंबर का दिन नहीं भूलने जैसी भड़काऊ भावना वाले पोस्टर कई स्थानों पर चस्पा किया गया है. इसपर कई सामाजिक संगठनों और सुन्नी वक्फ बोर्ड के सचिव मुजीबुर्र रहमान ने कड़ी आपत्ति जताते हुए कहा कि यह सौहार्द बिगाड़ने का प्रयास है, जब सुप्रीम कोर्ट के फैसले से इस विवाद का हल निकल चुका है तो इस तरह के पोस्टर लगाकर बखेड़ा खड़ा करने का क्या मतलब है.

उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से पीएफआई जैसे कट्टर सोच वाले संस्था पर कार्रवाई की मांग की है. कुल मिलाकर तमाम समुदायों के बुद्धिजीवी इस तरह के पोस्टर को पूरे जिले में भावनाओं को भड़काने की कवायद से जोड़कर देख रहे हैं. उन्होंने पीएफआई संगठन और पोस्टर लगाने वालों के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की है.

वहीं राज्य के उप-मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि निश्चित तौर पर गृह विभाग और कटिहार पुलिस ने इसपर संज्ञान लिया है और जो भी लोग भावना भड़काने की कोशिश करेंगे उनके विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी. सहायक थाना में इस संबंध में अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज हो गया है.

बता दें कि पिछले दिनों प्रवर्तन निदेशालय द्वारा कटिहार के सीमावर्ती पूर्णिया जिला और दरभंगा जिला में पीएफआई के कार्यालय पर छापेमारी की गई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज