रॉन्ग नंबर से मिली राइट चॉइस, झारखण्ड के 'बाबू' को हुआ बिहारी 'मेम' से प्यार

ETV Bihar/Jharkhand
Updated: June 9, 2017, 8:37 AM IST

रॉंग नंबर से मिला राइट चॉइस. झारखण्ड के बाबू को हुआ बिहार के मेम से प्यार. कटिहार से एक डिजिटल लव स्टोरी सामने आई है. मिस्ड कॉल के सहारे 45 साल की सलोनी को अपने से 4 साल के कम उम्र का दूल्हा मिला है.

  • Share this:
रॉंग नंबर से मिली राइट चॉइस. झारखण्ड के बाबू को हुआ बिहार के मेम से प्यार. कटिहार से एक डिजिटल लव स्टोरी सामने आई है. मिस्ड कॉल के सहारे 45 साल की सलोनी को अपने से 4 साल के कम उम्र का दूल्हा मिला है. बहरहाल समाज भले ही इस इस प्रेम कहानी पर सवाल खड़ा करे, लेकिन बिहार की मेम झारखण्ड के बाबू को पाकर काफी खुश है.

दरअसल कहानी उस डिजिटल दौर की है, जब बोकारो के रहने वाले 41 साल के राजेश को अपना से चार साल उर्म में बड़ी 45 साल के सलोनी मुरमुर से मिस कॉल से दोस्ती हुआ. धीरे -धीरे यह दोस्ती प्यार के परवान चढ़ गया.

बताया जा रहा है कि कस्तूरबा बालिका विद्यालय कुर्सेला में वार्डन के काम करने वाली सलोनी पहले से ही शादीसुदा है और एक बच्ची की मां भी है. राजेश झारखण्ड बोकारो का रहने वाला है, जैसे ही कल पहली बार राजेश सलोनी से मिलने कुर्सेला पहुंचा तो ग्रामीणों को इसकी भनक लग गई. भीड़ जुटनी शुरू हो गई.

कई घंटे के ड्रामे के बाद दोनों के रजामंदी से कुर्सेला बल्थी महेशपुर गांव के मंदिर में शादी करवा दी गई. फिलहाल दोनों खुश नजर आ रहे हैं.हालांकि इस तरह से हुई शादी को लेकर समाज में अलग-अलग विचार हैं. कोई इसका समर्थन कर रहा है तो कोई इस पर सवाल भी उठा रहा है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कटिहार से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 9, 2017, 8:21 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...