बिहार चुनाव: राहुल गांधी का इशारों में चिराग पर हमला, बोले- भ्रम फैला रही NDA की बी टीम

राहुल ने कहा कि अगर बिहार के किसान को उसका सही दाम नहीं मिलेगा, खेत का फायदा उसे नहीं मिलेगा.(फाइल फोटो)
राहुल ने कहा कि अगर बिहार के किसान को उसका सही दाम नहीं मिलेगा, खेत का फायदा उसे नहीं मिलेगा.(फाइल फोटो)

Bihar Assembly Election 2020: राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कहा कि नीतीश कुमार की सभा में युवा रोजगार मांग रहे हैं, लेकिन वे उन्हें धमका रहे हैं.

  • Share this:
किशनगंज. कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने केंद्र और बिहार सरकार पर कोरोना वायरस, बेरोजगारी, किसानों एवं छोटे व्यापारियों की समस्याओं से निपटने में विफल रहने का आरोप लगाया है. उन्होंने मंगलवार को कहा कि इन्होंने मिलकर बिहार को लूटा है, वादे पूरे नहीं किये और अब राज्य की जनता इनको जवाब देगी. राहुल गांधी ने कटिहार एवं किशनगंज में चुनावी रैलियों को संबोधित करते हुए कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections) में एक तरफ NDA है और दूसरी तरफ महागठबंधन. इनके बीच में राजग की ‘बी टीम’ भी है. माना जा रहा है कि बी टीम से राहुल गांधी ने इशारों-इशारों में चिराग पासवान पर भी हमला बोला.

जनसभा को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि ‘बी टीम’ घूम-घूम कर भ्रम फैलाने का काम कर रही है. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा और आरएसएस नफरत फैलाते हैं और हम इन दोनों से लड़ते हैं. भाजपा की ‘बी टीम’ भी नफरत फैलाती है. गौरतलब है कि बिहार चुनाव में चिराग पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी इस बार राजग से अलग होकर चुनाव लड़ रही है. समझा जाता है कि राहुल गांधी का इशारा लोजपा की ओर था. राजग पर निशाना साधते हुए राहुल ने कहा, 'नीतीश जी और मोदी जी ने मिलकर बिहार को लूटा है. बिहार के किसान, मजदूर, छोटे दुकानदारों को नष्ट किया है. अब बिहार के युवाओं और किसानों ने मन बना लिया है कि महागठबंधन को चुनाव जीताना है और बिहार को बदलने का काम शुरू करना है.' राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना से लड़ने के लिए ताली और थाली बजाने को कहा और 22 दिनों में कोरोना खत्म होने की बात कही लेकिन, कोरोना संक्रमण फैलता जा रहा है.

'अमीर लोगों की मदद'
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने केंद्र और प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि लॉकडाउन के दौरान जब लाखों मजदूर पैदल ही अपने घर आ रहे थे, तब नीतीश और मोदी कहां थे, तब मदद नहीं की और अब वोट मांगने आ रहे हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि नरेंद्र मोदी हिन्दुस्तान के सबसे अमीर लोगों की मदद करते हैं, उनका कर माफ करते हैं. कांग्रेस नेता ने दावा किया कि इन्होंने हिन्दुस्तान के कुछ बड़े उद्योगपतियों का 3.5 लाख करोड़ रुपया माफ किया. राहुल ने सवाल किया कि बिहार के लोगों को बाहर जाकर काम करने की जरूरत क्यों होती है, क्यों यहां पर रोजगार नहीं है.
'युवा रोजगार मांग रहा'


राहुल गांधी ने कहा कि नीतीश कुमार की सभा में युवा रोजगार मांग रहे हैं, लेकिन नीतीश जी उन्हें धमका रहे हैं. उन्होंने यहां अपनी सभा में कहा कि मोदीजी ने पूरे देश को लाइन में खड़ा कर दिया था, नोटबंदी के दौरान सिर्फ देश का गरीब ही लाइन में था कोई भी अमीर लाइन में नहीं लगा था. उन्होंने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि पहले नोटबंदी, फिर जीएसटी और अब नया कानून किसानों को खत्म करने वाला बनाया गया है. इसलिये इस दशहरे में पंजाब में किसानों ने नरेंद्र मोदी, अंबानी  और अडाणी का पुतला जलाया.

पलायन का मुद्दा भी उठाया
राहुल ने कहा कि अगर बिहार के किसान को उसका सही दाम नहीं मिलेगा, खेत का फायदा उसे नहीं मिलेगा. अगर यहां पर फूड प्रोसेसिंग प्लांट नहीं होगा या मक्के के प्रसंस्करण संयंत्र नहीं होगा तो बिहार का मजदूर, किसान दूसरे प्रदेशों में जाकर रोजगार ढूंढेगा. उन्होंने कहा कि महागठबंधन सरकार बनने पर बाढ पर ध्यान देने के साथ मक्का के प्रसंस्करण फैक्ट्री लगायी जाएगी, ताकि यहां के किसान दूसरे राज्यों में न जाएं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज