'बे-कार' हो गए एसडीएम साहब, कोर्ट के आदेश पर सरकारी गाड़ी जब्त

इस बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए वरिष्ठ वकील राज कुमार वर्मा ने कहा कि मामला बांध के जमीन अधिग्रहण करने से जुड़ी हुई है.

News18 Bihar
Updated: August 8, 2019, 6:26 AM IST
'बे-कार' हो गए एसडीएम साहब, कोर्ट के आदेश पर सरकारी गाड़ी जब्त
न्यूज18 फोटो
News18 Bihar
Updated: August 8, 2019, 6:26 AM IST
कटिहार की एक अदालत के आदेश पर अनुमंडल अधिकारी (एसडीएम) की सरकारी गाड़ी को जब्त कर लिया गया. अवर न्यायाधीश प्रथम द्वारा जारी नोटिस को सिविल कोर्ट के नाजिर ब्रम्हदेव मंडल ने सरकारी गाड़ी पर चस्पा किया. नाजिर ने कहा कि लगभग 5 लाख की सरकारी राशि जमा नहीं करने के एवज में डीएम, एडीएम और एसडीएम के सरकारी गाड़ी संख्या (BR-39A-0001 स्कॉर्पियो, BR-39C 5086 सूमो, BR 39C-4901 सूमो) जब्त कर कुर्क करने की आदेश जारी किया गया है.

इसी से जुड़ी नोटिस को बुधवार को कटिहार एसडीएम की गाड़ी पर चस्पा किया गया है. इस बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए वरिष्ठ वकील राज कुमार वर्मा ने कहा कि मामला बांध के जमीन अधिग्रहण  करने से जुड़ी हुई है. 2 दिसंबर 1986  में सदा सुंदरी सिंह पति कैलाश सिंह, बरमसिया निवासी से बिहार सरकार ने मधुरा मौजा के 61 डिसमिल जमीन अधिग्रहण किया था. मगर 2 दिसंबर 1986 को किए गए इस जमीन अधिग्रहण के बाद बिहार सरकार द्वारा रुपया नहीं देने पर सदा सुंदरी  सिंह की तरफ से 1989 में सरकार के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया था. 1994 में सरकार के खिलाफ मामला को मानते हुए कोर्ट ने 1995 में सरकार को सदा सुंदरी सिंह को लगभग 5 लाख रुपया देने की आदेश जारी किया था मगर 24 साल बीत जाने के बाद भी सरकार ने आदेश को नहीं माना.

इलके बाद अवर न्यायधीश  प्रथम के आदेश पर नाजीर ने एसडीएम के गाड़ी पर नोटिस चस्पा कर दिया. आगे डीएम और एडीएम के गाड़ी पर भी नोटिस चस्पा कर कुर्क करने की बात कही जा रही है.

(रिपोर्ट- सुब्रत गुहा)

ये भी पढ़ें-
First published: August 8, 2019, 6:15 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...