टीचर ने राष्ट्रगान गाने से किया इनकार, कहा- संविधान में नहीं है इसकी अनिवार्यता

खास बात यह है कि टीचर अफजल हुसैन ने वायरल होते इस वीडियो पर खुद ही बयान देकर मुहर भी लगा दी है.

News18 Bihar
Updated: February 6, 2019, 9:46 AM IST
टीचर ने राष्ट्रगान गाने से किया इनकार, कहा- संविधान में नहीं है इसकी अनिवार्यता
आरोपी शिक्षक
News18 Bihar
Updated: February 6, 2019, 9:46 AM IST
बिहार के कटिहार से एक बड़ी खबर सामने आई है, जहां एक टीचर ने गणतंत्र दिवस के मौके पर राष्ट्रगान गाने और वन्दे मातरम कहने से इनकार कर दिया. टीचर के इस हरकत का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो गया है. आरोपी शिक्षक की पहचान कर ली गई है. वह मनिहारी प्रखण्ड के प्राथमिक विद्यालय अब्दुल्लापुर में बच्चों को पढ़ाता है. इसका नाम अफजल हुसैन है.

खास बात यह है कि टीचर अफजल हुसैन ने वायरल होते इस वीडियो पर खुद ही बयान देकर मुहर भी लगा दी है. उसका कहना है कि संविधान में कहीं पर भी राष्ट्रगान गाने की अनिवार्यता नहीं है. ऐसे में धार्मिक मान्यता को देखते हुए मैंने गणतंत्र दिवस पर राष्ट्रगान गाने से इनकार कर दिया.



बता दें कि अफजल हुसैन प्राथमिक विद्यालय के प्रभारी प्राचार्य भी है. वायरल वीडियो में देखा जा सकता है  कि झंडारोहण करने के बाद सभी शिक्षक, छात्र-छात्राएं और गांव वाले राष्ट्रगान गा रहे हैं. लेकिन हुसैन ने गाने से इनकार कर दिया. इस दौरान गांव वाले उसके ऊपर भड़क गए और भारत माता की जय, वन्दे मातरम बोलते हुए आरोपी टीचर के साथ हाथापाई भी कर दी.

इस दौरान किसी ने वीडियो बनाकर वायरल कर दिया. अफजल हुसैन अब भी अपनी बातों पर कायम है. उसका कहना है कि वह न तो राष्ट्रगान गाएगा और न ही वन्दे मातरम कहेगा. क्योंकि इस्लाम इसका इजाजत नहीं देता है. वहीं, जिला शिक्षा पदाधिकारी कहा कहना है कि उन्हें मामले के बारे में कुछ भी जानकारी नहीं है. अगर कोई शिकायत उनतक पहुंचती है तो मामले की जांच कराई जायेगी.

रिपोर्ट- सुब्रत

ये भी पढ़ें- 


Loading...

जेपी- लोहिया को छेड़कर PM मोदी का 'चेला' बन गए नीतीश चाचा: तेजस्वी यादव

बिहार ट्रेन हादसाः कुंभ मेला देखने जा रही थीं ये दो महिलाएं लेकिन...

गोलियों की तड़तड़ाहट से थर्राया सीवान, शहाबुद्दीन के करीबी की गोली मारकर हत्या

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...