Katihar News: कभी साढ़े तीन फुट के सैफुल को 'टिंकू जी' कहकर चिढ़ाते थे लोग, आज इस वजह से बने 'हीरो'

सैफुल ने स्‍नातक की पढ़ाई की है.

सैफुल ने स्‍नातक की पढ़ाई की है.

कटिहार (Katihar) के एसके सैफुल (SK Saiful) का कुछ साल पहले कद-काठी को लेकर मजाक उठाया जाता था, लेकिन अब हर कोई उनकी तारीफ कर रहा है. इस तारीफ की वजह उनका बच्‍चों को अक्षर ज्ञान बांटना है.

  • Share this:
कटिहार. जिंदगी में सफल होने या खुद के मुकाम बनाने के लिए रंग रूप या फिर कद-काठी कोई मायने नहीं रखती है. अगर आप में हौसला हो तो खुद के दम पर इतिहास बदला जा सकता है. कटिहार (Katihar) के एसके सैफुल (SK Saiful) की कहानी कुछ इसी तरह की है. एक ऐसा दौर था जब छोटे कद के कारण पूरा गांव सैफुल को 'टिंकू जी' कह कर चिढ़ाता था, लेकिन अब उसी सैफुल के कारनामे से पूरे गांव या यूं कहे जिसे भी इसके बारे में जानकारी है, उसके कद्रदान हो चुके हैं.

दरअसल प्राणपुर प्रखंड के काठघर पंचायत धबोल गांव निवासी एसके सैफुल की लंबाई महज साढ़े तीन फुट है, लेकिन इस कद काठी के कारण हर दिन कई तरह की कठिनाई का सामना करने के बावजूद इस होनहार ने अपनी ग्रेजुएशन की पढ़ाई समाप्त कर कटिहार के प्रतिष्ठ डीएस कॉलेज से शिक्षा के सारथी बनकर अपने गांव में शिक्षा के अलख जगा रहे हैं. पिछले 6 सालों से अपने गांव उत्क्रमित मध्य विद्यालय धबोल में शिक्षकों की कमी को देखते हुए वह सिर्फ सरकार के सिस्टम पर सवाल न उठा कर अपने योगदान से हर दिन मुफ्त में स्कूल के बच्चों में सेवा भावना से अक्षर ज्ञान बांट रहे है, जिससे गांव के लोग भी बेहद खुश हैं. साथ ही अपने इस गुरुजी के साथ पाकर बच्चे भी बेहद खुश हैं.

Bihar Education Department, Nitish Kumar, Bihar News, Katihar, SK Saiful, बिहार शिक्षा विभाग, नीतीश कुमार, बिहार न्‍यूज़, कटिहार,एसके सैफुल
प्राणपुर प्रखंड के काठघर पंचायत धबोल गांव निवासी एसके सैफुल की लंबाई महज साढ़े तीन फुट है.


सैफुल की पहल बनी नजीर
सैफुल ने शिक्षक बनने के लिए परीक्षा भी दी थी, लेकिन पांच नंबर कम होने के कारण उन्हें नौकरी नहीं मिल सकी. इसके बाद वह शिक्षा के सारथी बनकर गांव के बच्चों के बीच शिक्षा की अलख जगा रहे हैं. सैफुल की इस पहल से समाज के सभी वर्ग के साथ-साथ शिक्षा जगत के जुड़े लोग बेहद खुश हैं. इस बाबत शिक्षाविद सूरज गुप्ता कहते हैं कि निश्चित तौर पर यह काबिले तारीफ पहल है और जिस तरह अपने छोटे कद के बावजूद सैफुल बड़ा कारनामा कर रहा है सरकार को इसके लिए कुछ सोचना ही चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज