Home /News /bihar /

1 महीने तक ड्यूटी फिर अपने ही थाने में अरेस्ट, जानें बिहार के इस शातिर 'दारोगा' की पूरी कहानी

1 महीने तक ड्यूटी फिर अपने ही थाने में अरेस्ट, जानें बिहार के इस शातिर 'दारोगा' की पूरी कहानी

बिहार के खगड़िया में दारोगा की नौकरी करने वाला फर्जी शख्स

बिहार के खगड़िया में दारोगा की नौकरी करने वाला फर्जी शख्स

Bihar Police Fraud Sub Inspector: फर्जी दारोगा और एक महीने तक थाने में नौकरी करने का ये मामला बिहार के खगड़िया से जुड़ा है. खुद को दारोगा बताकर विक्रम नाम के इस शख्स की जब गिरफ्तारी हुई तो कई चौंकाने वाले राज सामने आए. फिलहाल पुलिस ने इस जालसाज को गिरफ्तार कर लिया है.

अधिक पढ़ें ...

खगड़िया. दारोगा की वर्दी पहनकर थाना, बैंक और पेट्रोलिंग टीम के साथ ड्यूटी करने वाला बिहार पुुलिस (Bihar Police) का फर्जी दारोगा आखिरकार पकड़ा गया है. खगड़िया के मानसी थाने में लगभग एक महीने तक नौकरी करने वाले शख्स का नाम विक्रम कुमार है जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. पूरे मामले में खगड़िया एसपी (Khagaria SP) ने अहम खुलासा किया है. एसपी अमितेश कुमार ने बताया विक्रम कुमार नाम का शख्स नटवरलाल बनकर मानसी थाना में पिछले कई दिनों से फर्जी दरोगा बन कर ड्यूटी कर रहा था.

मामले की शिकायत मिलने के बाद इसकी जांच सदर एसडीपीओ सुमित कुमार से करवाई गई. जांच रिपोर्ट आने के बाद मानसी थाना में फर्जी दरोगा विक्रम कुमार के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई और फिर उसे गिरफ्तार कर लिया गया. SP ने बताया कि पूरे मामले में मानसी थाना प्रभारी दीपक कुमार की भी बड़ी लापरवाही सामने आई है. सोशल मीडिया में खबर वायरल होने के बाद भी मानसी थाना प्रभारी ने अपने वरीय अधिकारी को किसी तरह की कोई सूचना नहीं दी. इस परिस्थिति में मानसी थानाध्यक्ष पर लापरवाही और पुलिस की छवि धूमिल करने के साथ साथ वरीय पदाधिकारियों को गुमराह करने को लेकर विभागीय कार्रवाई शुरू की गई है, साथ ही निलंबन की अनुशंसा को चुनाव आयोग से परमिशन मिलने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.

क्या है पूरा मामला 

खुद को 2019 बैच का दारोगा बताते हुए विक्रम नाम का युवक खगड़िया के मानसी थाने में ये कहकर नौकरी करता रहा था कि मेरा जिला आदेश पुलिस लाइन से जल्दी आपके पास आ जाएगा. फर्जी दारोगा विक्रम कुमार पुलिस गश्ती के साथ-साथ बैंक का सीसीटीवी चेकिंग और अपने वरीय पदाधिकारियों के साथ अनुसंधान जांच में भी जाने लगा था. उसके इस जालसाजी की शिकायत मानवाधिकार कार्यकर्ता मनोज मिश्रा ने एसपी से की थी जिसके बाद उसकी सच्चाई सामने आई. मनोज मिश्रा ने फर्जी दरोगा की पुलिस वर्दी पहने फोटो भी वायरल की थी.

बिहार पुलिस का फर्जी दारोगा विक्रम कुमार

मुंगेर के शख्स ने की थी सेटिंग

फर्जी दारोगा विक्रम कुमार ने गिरफ्तारी के बाद पूछताछ में बताया कि मुंगेर के किसी शख्स ने उससे दारोगा बहाली के नाम पर सेटिंग करवाया था और फर्जी एडमिट कार्ड नियुक्ति पत्र भी दिया था, जिसके बाद वह मानसी थाना में आकर सीधे ड्यूटी करने लगा. एडमिट कार्ड से लेकर नियुक्ति पत्र तक फर्जी  स्कैन कर बनाया गया था. एडमिट कार्ड पर अपने फोटो के साथ नाम भी डालकर उसने खुद को दारोगा बना लिया था.

मानसी थाना प्रभारी दीपक कुमार की भी बड़ी लापरवाही
खगड़िया एसपी अमितेश कुमार की मानें तो बिना किसी आदेश के किसी भी पुलिसकर्मी को थाने में ज्वाइन नहीं करवाया जा सकता है, उसके बावजूद भी मानसी थाना प्रभारी ने बिना किसी भी ऑर्डर के उसे थाने में रखा जो एक बड़ी लापरवाही है. इस मामले में शिकायतकर्ता मनोज मिश्रा का कहना है कि सब कुछ मानसी थाना प्रभारी की जानकारी में था उसके बावजूद वो उससे पुलिस की ड्यूटी करवा रहे थे.

Tags: Bihar News, Bihar police, Khagaria news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर