लाइव टीवी

हाईकोर्ट के आदेश के बाद भी जारी है तालाबों पर दबंगों का कब्जा

ETV Bihar/Jharkhand
Updated: June 23, 2017, 1:16 PM IST
हाईकोर्ट के आदेश के बाद भी जारी है तालाबों पर दबंगों का कब्जा
ETV Image

हाईकोर्ट के सख्त निर्देश के बाद भी शेखपुरा जिले के एक सौ से ज्यादा तालाबों पर दबंगो का कब्जा जारी है. अतिक्रमण हटाने में जिला प्रशासन विफल रहा है, जिसके कारण परंपरागत सिंचाई व्यवस्था ही विलुप्त होता जा रहा है. इसका सीधा प्रभाव खेती पर पड़ रहा है.

  • Share this:
हाईकोर्ट के सख्त निर्देश के बाद भी शेखपुरा जिले के एक सौ से ज्यादा तालाबों पर दबंगो का कब्जा जारी है. अतिक्रमण हटाने में जिला प्रशासन विफल रहा है, जिसके कारण परंपरागत सिंचाई व्यवस्था ही विलुप्त होता जा रहा है. इसका सीधा प्रभाव खेती पर पड़ रहा है.

शेखपुरा जिले के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में एक सौ से ज्यादा तालाब हैं. इन तलाबों के सहारे हजारों एकड़ खेत को सिंचित किया जाता था, लेकिन पिछले बीस वर्षों के दौरान दबंगो और भूमाफियाओं की नजर तालाबों पर पड़ी और कब्जा किये जाने का सिलसिला शुरू हो गया.

आज स्थिति यह है कि लगभग अधिकांश तालाबों को कब्जा कर या तो बेच दिया गया है या फिर खेत बनाकर उपयोग किया जा रहा है, जिसके कारण परंपरागत सिंचाई व्यवस्था दम तोड़ रहा है. चेवाड़ा के एकरामा पंचायत के किसानों ने डीएम कार्यालय पहुंचकर तालाबों को दबंगो के कब्जे से मुक्त कराने की गुहार लगा रहे हैं, लेकिन कोई सुनने वाला नहीं है.

किसानों ने कहा कि हजारो एकड़ जमीन बंजर हो रहे हैं. तालाबों को दबंगो से मुक्त नहीं कराया गया तो आंदोलन करने की चेतावनी दी है. दबंगों के कब्जे से मुक्त कराने में भले ही डीएम स्तर पर करवाई में शिथिलता बरती जा रही हो लेकिन एसपी ने इस मामले में दिलचस्पी दिखाते हुए सीओ से प्रतिवेदन की मांग की है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए खगड़िया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 23, 2017, 1:16 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर