होम /न्यूज /बिहार /भारत-नेपाल सीमा से गिरफ्तार हुआ चीनी नागरिक, रात के अंधेरे में थी भागने की कोशिश

भारत-नेपाल सीमा से गिरफ्तार हुआ चीनी नागरिक, रात के अंधेरे में थी भागने की कोशिश

बिहार में किशनगंज से सटे नेपाल सीमा से गिरफ्तार हुआ चीनी नागरिक

बिहार में किशनगंज से सटे नेपाल सीमा से गिरफ्तार हुआ चीनी नागरिक

Kishanganj News: बिहार के किशनगंज से सटे नेपाल सीमा से गिरफ्तार किए गए इस चीनी नागरिक से सुरक्षा अधिकारी पूछताछ कर रहे ...अधिक पढ़ें

    रिपोर्ट- आशीष सिन्हा

    किशनगंज. बिहार के किशनगंज से सटे पश्चिम बंगाल के पानी टंकी स्थित एसएसबी की 41 वीं बटालियन के बीआईटी कर्मियों ने भारत-नेपाल सीमा (India-Nepal Border) से एक चीनी नागरिक को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार किए गए शख्स का नाम लोबसंग नईमा है. इस चाइनीज नागरिक के पास से भारत का आधार कार्ड एवं वोटर कार्ड (Voter ID) बरामद हुआ है जबकि उसका जन्म तिब्बत में हुआ है. मिली जानकारी के मुताबिक चीनी नागरिक रात के अंधेरे का फायदा उठा कर पानी टंकी के रास्ते भारत से नेपाल प्रवेश करने की फिराक में था, इसी दौरान 41वीं बटालियन के बीआईटी कर्मियों ने उसे धर दबोचा.

    एसएसबी की टीम जांच में जुटी है. जांच में सख्ती के बाद भी उसने कोई संतोष जनक जवाब नहीं दिया और अंत में इस बात को माना कि वह चीनी नागरिक है. जांच के बाद उस चीनी युवक को खुरीबाडी थाना को सुपुर्द किया गया है. एसएसबी सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक भारत सरकार द्वारा चीनी नागरिकों को वीजा नियम में कड़ाई करने के बाद से घुसपैठ करने वाले नेपाल या बांगलादेश के एजेंट का सहारा लेकर फर्जी रास्ता अपना रहे हैं, साथ ही बिजनेस के नाम पर भी चीनी नागरिक यहां दाखिल होते हैं और भारत के खिलाफ जासूसी का काम करते हैं.

    सुरक्षाबलों के सूत्रों की मानें तो ऐसे लोगों द्वारा ही गोपनीय सूचना इकट्ठा कर चीन की एजेंसी को मुहैया कराई जा रही है. चीनी नागरिक अपनी पहचान बदल कर फर्जी तरीके से नेपाल और बांग्लादेश के पासपोर्ट भी बनवा लें रहे है एवं वहां के नागरिक बनकर वहीं के दलालों के माध्यम से सीमा पार कर भारत में प्रवेश कर जाया करते हैं. सबसे बड़ा सवाल इस नागरिक के पास से भारत का आधार कार्ड एवं वोटर कार्ड का मिलना है. फिलहाल गिरफ्तार किए गए चीनी नागरिक से पूछताछ की जा रही है.

    Tags: Bihar News, India china border news, India China Border Tension, India china dispute, India nepal

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें