लाइव टीवी

डोक नदी से महानंदा तक कारगर रहल डॉल्फिन के रेस्क्यू

News18 Bihar
Updated: December 17, 2018, 7:49 PM IST
डोक नदी से महानंदा तक कारगर रहल डॉल्फिन के रेस्क्यू
डॉल्फिन (न्यूज18 फोटो)

फॉरेस्ट के रेज ऑफिसर यूएन दूबे के मुताबिक इ देश के तीसरा सफल डाल्फिन-रेसक्यू रहल बा.

  • Share this:
बिहार के किशनगंज जिला में आज देश के तीसरा डॉल्फिन-रेसक्यू सोलहो आना कारगर रहल. एह डॉल्फिन-रेसक्यू के तहत किशनगंज जिला के डोक नदी में कोल्थाघाट के पास कम पानी में पिछला कई दिन से दिक्कत महसूस कर रहल एगो डॉल्फिन के सुरक्षित ढंग से वन विभाग और जिला प्रशासन के टीम द्वारा पूरा पानी वाली नदी महानंदा में ले जाइल गइल.

पिछले कई दिन कोल्थाघाट के लोग एह डॉल्फिन के कम पानी में परेशान देख रहल रहे जेकरा बाद वन विभाग के लोग एहजा आके डॉल्फिन के निगरानी में ले लेले रहे. आज डीएफओ और एसडीपीओ किशनगंज के निगरानी में एह डॉल्फिन के कम जलस्तर वाला डोक नदी से बड़ी सुरक्षा के साथ बेहतर जलस्तर वाला महानंदा नदी में ले जाइल गइल.

ये भी पढ़ें- राफेल डील- सुप्रीम कोर्ट के फैसले से हमलावर हुई बीजेपी, केशव प्रसाद मौर्य ने मांगा राहुल से इस्तीफा

फॉरेस्ट के रेज ऑफिसर यूएन दूबे के मुताबिक इ देश के तीसरा सफल डॉल्फिन-रेसक्यू रहल बा. एकड़ा से पहले 2012 में किशनगंज में ही एक दूसरा नदी से दुगो डॉल्फिन के सुरक्षित रेसक्यू से महानंदा में छोडल गइल रहे. ओह से पहले पश्चिम बंगाल के एक नदी से भी डॉल्फिन रेस्क्यू के फस्ट हिस्ट्री बा.

ये भी पढ़ें- राफेल डील पर बीजेपी ने सुप्रीम कोर्ट को किया गुमराह: प्रेमचंद मिश्रा

डॉल्फिन बिहार के नदियन के एक सुरक्षित जीव के रुप में संरक्षित कइल जाली. आज एह डाल्फिन के खुशहाल जिनगीभर पानी में जिये के जोगाड़ करके वन विभाग के कर्मचारी काफी खुश बाडे औउर एह रेस्क्यू के सोलहो आना सफल बनावे में लागल कोल्थाघाट गांव के लोग भी उनको से भी जादे खुश बाड़े. रेस्क्यू के टाइम में लोगल के काफी भीड लागल रहे.

(रिपोर्ट- राजेंद्र पाठक)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए किशनगंज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 17, 2018, 7:14 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...