व्यवसायी के घर डकैती के दौरान पुलिस मुठभेड़, हवलदार समेत दो की मौत

जिस व्यवसायी के घर डकैती की ये घटना हुई है वो जूट के बड़े कारोबारी हैं. पुलिस की टीम डकैती की घटना के दौरान ही मौका-ए-वारदात पर पहुंची.

News18 Bihar
Updated: September 12, 2018, 11:20 AM IST
व्यवसायी के घर डकैती के दौरान पुलिस मुठभेड़, हवलदार समेत दो की मौत
मामले की जांच को पहुंची पुलिस
News18 Bihar
Updated: September 12, 2018, 11:20 AM IST
बिहार के किशनगंज में पुलिस और डकैतों के बीच मुठभेड़ हुई है. मुठभेड़ की इस घटना में जहां एक डकैत मारा गया वहीं एक हवलदार भी शहीद हो गया. घटना शहर के पूरब पाली इलाके की है. जानकारी के मुताबिक पूरब पाली पावर हाउस के पास नंद किशोर अग्रवाल उर्फ नंदू बाबू के गोल में डकैत देर रात घुस आये.

इस दौरान लूटपाट के क्रम में ही पुलिस की पेट्रोलिंग टीम आ पहुंची और दोनों तरफ से गोलियां चलने लगी. पुलिस की गाड़ी की आवाज सुनकर डकैतों ने पुलिस पर गोलियां चलानी शुरू कर दी जिसके जवाब में पुलिस ने भी फायरिंग की. मुठभेड़ में एक हवलदार को गोली लग गई जिससे उसकी मौत हो गई, वहीं एक डकैत भी मारा गया. इस घटना में व्यवसायी की गार्ड भी बुरी तरह से जख्मी हो गया जिसे इलाज के लिये सिल्लीगुड़ी भेजा गया है.

ये भी पढ़ें- बिहार में कई इलाकों में लगे भूकंप के झटके, घरों से बाहर निकले लोग

जिस व्यवसायी के घर डकैती की ये घटना हुई है वो जूट के बड़े कारोबारी हैं. एसडीपीओ आवास से 200 मीटर की दूरी पर घटी इस घटना की जानकारी मिलते ही एसडीपीओ, टाउन थानाध्यक्ष समेत तमाम पुलिस पदाधिकारी मौके पर पहुंचे. पुलिस के मुताबिक इस मामले में तीन डकैतों को दबोचा गया है वहीं अन्य डकैत भागने में सफल रहे हैं.

पुलिस के मुताबिक इससे पहले भी इसी व्यवसायी के घर डकैती की घटना दो बार हो चुकी है. डकैतों की निशानदेही पर पुलिस उनकी गिरफ्तारी के लिये शहर से सटे बंगाल में छापेमारी कर रही है. छापेमारी की कमान पूर्णिया एसपी विशाल शर्मा संभाल रहे हैं. डकैतों के पास से पुलिस को एक देशी कट्टा और एक झोला बम भी मिला है.

इनपुट- आशीष कुमार
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर