Assembly Banner 2021

सर्टिफिकेट बनवाने के नाम पर दिव्यांगों से ठगी, दलाल पैसे लेकर गायब

पीड़ित बताते हैं कि दलाल ने पैसे लेकर उन्हें आगे जाने को बोल दिया. किशनगंज पहुंचकर वे इंतजार करते रहे और कई घंटों बाद समझ सके कि उनके साथ धोखा हुआ है.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: September 27, 2018, 2:23 PM IST
  • Share this:
किशनगंज में दिव्यांग सर्टिफिकेट बनवाने के नाम पर धोखाधड़ी का मामला सामने आया है. सर्टिफिकेट बनवाने में मुश्किल को देखते हुए दलाल ने पीड़ितों से वादा किया कि वो सर्टिफिकेट बनवा देगा, लोन भी दिलवाएगा. बदले में उसने लोगों से कुछ सौ रुपए झटके और चंपत हो गया.

दिव्यांगों का जीवन वैसे ही आसान नहीं होता, उसपर लोग उनकी कमजोरी का फायदा उठाकर उसे और भी मुश्किल बना देते हैं. ऐसा ही एक मामला किशनगंज में देखने को आया. बताया जा रहा है कि यहां कमलेश नाम का एक दलाल ने ठाकुरगंज प्रखंड के मौलानी गांव के कई लोगों से मिला.

सर्टिफिकेट बनवाने में आ रही मुश्किलों और खर्च हो रहे समय को देखते हुए कमलेश ने वादा किया कि वो इसमें उनकी मदद करेगा. बदले में उसने किसी से दो तो किसी से ढाई हजार लिए. पीड़ित व्यक्ति जाहेदुर रहमान ने बताया कि उसने कहा, सर्टिफिकेट मिल जाने पर आप लोगों को प्रशासन की ओर से 5 लाख तक का लोन भी मिल सकेगा.



ठगी करने वाले व्यक्ति ने सभी दिव्यांगों को सर्टिफिकेट दिलवाने के नाम पर किशनगंज जिला मुख्यालय भेज दिया और खुद बाद में आने की बात कही. प्रखंड से पहुंचे हुए दिव्यांग यहां से वहां भटकते रहे. दिनभर परेशान होने के बाद आखिरकार उन्हें समझ आया कि वे ठगे गए हैं. (रिपोर्ट- आशीष सिन्हा)
ये भी पढ़ें-

बाबरी केस में अहम दिन: मस्जिद में नमाज पढ़ना इस्लाम का अभिन्न हिस्सा है या नहीं, SC का फैसला आज

अगर आप भी करते हैं PayTM का इस्तेमाल तो जान लें ये 4 बातें 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज