Home /News /bihar /

बिहार पंचायत चुनाव: इन जिलों में चुनावी सभा नहीं कर पाएंगे उम्मीदवार, देखें अपने जिले का नाम

बिहार पंचायत चुनाव: इन जिलों में चुनावी सभा नहीं कर पाएंगे उम्मीदवार, देखें अपने जिले का नाम

पंचायत चुनाव को लेकर अंतराष्ट्रीय सीमा से लगे जिलों के लिए निर्वाचन आयोग ने दिशा-निर्देश जारी किए (सांकेतिक फोटो)

पंचायत चुनाव को लेकर अंतराष्ट्रीय सीमा से लगे जिलों के लिए निर्वाचन आयोग ने दिशा-निर्देश जारी किए (सांकेतिक फोटो)

Bihar Panchayat Elections: इंडो-नेपाल और बांग्लादेश बॉर्डर (Indo-Nepal and Bangladesh border) के आसपास बीएसएफ के जवान बरत रहे हैं एहतियात. पंचायत चुनाव के दौरान संदिग्ध व्यक्ति के बिहार में आने पर पैनी नजर.

    पटना. बिहार में पंचायत चुनाव ( Bihar Panchayat Chunaw) 24 सितंबर से लेकर 12 दिसंबर तक कुल 11 चरणों में होने वाले हैं. इसको लेकर राज्य निर्वाचन आयोग (Bihar State Election Commission) लगातार अपनी तैयारियों में जुटा हुआ है. इसके साथ ही प्रत्याशियों के लिए गाइडलाइन्स भी जारी किए जा रहे हैं. इसी क्रम में  सुरक्षा को लेकर भी चुनाव आयोग (Election Commission) की ओर से विशेष तैयारी की जा रही है. इसी सिलसिले में आयोग ने निर्देश दिया है कि सुरक्षा के मद्देनजर पंचायत चुनाव में प्रत्याशी एवं उनके समर्थक सीमा से सटे इलाकों में चुनावी सभा नहीं करेंगे. एटीएस के एडीजी रविंद्रन शंकरन (ATS ADG Ravindran Sankaran) ने पूर्णिया प्रक्षेत्र के आईजी और पूर्णिया, अररिया, कटिहार, किशनगंज  (Purnia, Araria, Katihar, Kishanganj)के पुलिस अधीक्षकों को यह दिशा-निर्देश दिया है.

    इसके साथ ही एटीएस के एडीजी ने आईजी को जल्द ही सीमा से लगे क्षेत्रों में जाकर बॉर्डर मीटिंग करने को लेकर भी दिशा-निर्देश दिया है. बताया जाता है कि अभी से ही इंडो- नेपाल और बांग्लादेश बॉर्डर के आसपास और बीएसएफ के जवानों के द्वारा एहतियात बरतने का काम शुरू कर दिया गया है, ताकि पंचायत चुनाव के दौरान भीड़भाड़ का फायदा उठाकर कोई संदिग्ध प्रवेश कर नहीं पाएं.

    ये भी पढ़ें- बिहार में संपत्ति का ब्योरा नहीं देने वाले कर्मचारियों का रुकेगा वेतन, होगी विभागीय कार्रवाई

    जानकारी के अनुसार इस तरह की तमाम नाकेबंदी करने का काम अभी सुरक्षा का जिम्मा संभालने वाले अधिकारियों ने शुरू कर दिया है.  जल्द ही इस मामले को लेकर पूर्णिया प्रक्षेत्र के आईजी सुरेश प्रसाद चौधरी रूपरेखा तैयार कर इसे लागू करवाएंगे. पंचायत चुनाव के मद्देनजर एसएसबी के जवानों ने भी सीमाई इलाकों पर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी है.

    बता दें कि एटीएस के एडीजी ने किशनगंज और अररिया के पुलिस अधीक्षक को विशेष दिशा-निर्देश दिया है और दोनों पुलिस अधीक्षक को एसएसबी और बीएसएफ के वरीय अधिकारियों से संपर्क कर चाक-चौबंद सुरक्षा व्यवस्था और सीमाई इलाकों पर विशेष नजर रखने का दिशा निर्देश भी दिया है.  इस बीच सीमा से लगे चारों जिले के पुलिस अधीक्षक के द्वारा कार्रवाई शुरू कर दी गई है.

    ये भी पढ़ें-  जातिगत जनगणना: क्या भाजपा के बढ़ते कद से परेशान हैं ‘जातिवादी पार्टियां’?

    एसएसबी के डीआईजी एसके सारंगी के अनुसार अभी से ही सीमाई इलाकों पर सख्ती बढ़ा दी गयी है.  संदिग्धों पर नजर रखी जा रही है. महिला जवानों की भी सीमा क्षेत्रों में गश्त करने के लिए ड्यूटी लगाई जा रही है. पूर्णिया प्रक्षेत्र के आईजी सुरेश प्रसाद चौधरी के अनुसार एटीएस के एडीजी के द्वारा कई तरह के दिशा निर्देश दिए गए हैं. पंचायत चुनाव को लेकर सुरक्षा व्यवस्था दुरुस्त करने के साथ सीमा इलाकों को लेकर विशेष दिशा-निर्देश गया है.

    Tags: Bihar News, Bihar Panchayat Election

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर