लाइव टीवी

CAA-NRC का विरोध कर बोलीं वामपंथी नेता - जो सेक्यूलर नहीं वो नेपाल चले जाएं
Kishanganj News in Hindi

News18 Bihar
Updated: January 21, 2020, 3:43 PM IST
CAA-NRC का विरोध कर बोलीं वामपंथी नेता - जो सेक्यूलर नहीं वो नेपाल चले जाएं
किशनगंज के बहादुरगंज में सीएए एनआरसी के विरोध में धरना पर बैठे लोगों को संबोधित करतीं वामपंथी नेता कामिनी स्वामी.

कामिनी स्वामी ने जहां इसे आजादी के बाद का सबसे बड़ा आंदोलन करार दिया वहीं उन्होंने देश में ऐसे लोगों को नेपाल जाने को कह दिया जो सेक्यूलर नहीं हैं. इसके साथ ही उन्होंने लोगों का आह्वान किया कि नीतीश सरकार का विरोध करने के लिए 29 फरवरी को एक सर्वदलीय जत्था जाएगा.

  • Share this:
किशनगंज. नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (NRC) के विरोध में जिला मुख्यालय में हो रहे प्रदर्शन का दायरा बढ़कर प्रखंड स्तर तक पहुंच गया है. दिल्ली की शाहीन बाग (SH)की तर्ज पर जिले के बहादुर प्रखंड में भी लोग अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गए हैं. किशनगंज के धरने में जहां नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी सहित, गुजरात के विधायक जिग्नेश मेवानी और पप्पू यादव सहित कई नेता पहुंच चुके हैं, उसी तरह बहादुरगंज में भी पीर अली हुसैन चौक पर आयोजित धरने में भी कई नेता पहुंच रहे हैं. इसी क्रम में यहां वामपंथी नेता व सामाजिक कार्यकर्ता कामिनी स्वामी भी पहुंचीं जिन्होंने एक विवादित बयान दे दिया.

कामिनी स्वामी ने जहां इसे आजादी के बाद का सबसे बड़ा आंदोलन करार दिया वहीं उन्होंने देश में ऐसे लोगों को नेपाल जाने को कह दिया जो सेक्यूलर नहीं हैं. इसके साथ ही उन्होंने लोगों का आह्वान किया कि नीतीश सरकार का विरोध करने के लिए 29 फरवरी को एक सर्वदलीय जत्था जाएगा. उन्होंने ये भी दावा किया कि अगर एनपीआर शुरू हुआ तो नीतीश कुमार यहां एक भी सीट नहीं जीत पाएंगे.

CAA विरोध प्रदर्शन में नदीम जावेद
बहादुरगंज के पीर अली हुसैन चौक पर अनिश्चित कालीन धरना में AICC अल्पसंख्यक विभाग के राष्ट्रीय अध्यक्ष नदीम जावेद एवं BPCC अल्पसंख्यक विभाग के प्रदेश अध्यक्ष मिन्नत रहमानी भी पहुंचे.  उन्होंने धरना स्थल में सभा को किया संबोधित करते हुए कहा आज़ादी के बाद का सबसे बड़ा आंदोलन है.  सरकार को चाहिए के अपना अहंकार को छोड़ कर देश की जनता की भावनाओं को समझे. सभा को मिन्नत रहमानी और जिला पार्षद प्रतिनिधि इमरान आलम ने भी संबोधित किया.

रिपोर्ट- आशीष

ये भी पढ़ें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए किशनगंज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 21, 2020, 3:43 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर