शराबबंदी वाले बिहार के लखीसराय में शराब माफियाओं के बड़े रैकेट का पर्दाफाश, स्कॉर्पियो सहित 7 गिरफ्तार

बिहार के लखीसराय से गिरफ्तार शराब माफिया

Lakhisarai News: एसडीपीओ रंजन कुमार ने बताया कि जब्त स्‍कॉर्पियो दिल्ली से चोरी कर लाई गई थी. इस पूरे सिंडिकेट में लखीसराय के कई सफदेपोश लोग भी शामिल बताए जा रहे हैं.

  • Share this:
लखीसराय. बिहार की लखीसराय पुलिस ने अंतरजिला शराब रैकेट के बड़े सिंडिकेट (Liquor Supplier Syndicate) का खुलासा किया है. पुलिस ने कार्रवाई करते हुए इस सिंडिकेट के मास्टरमाइंड सहित कुल 6 शराब तस्‍करों को भी गिरफ्तार कर लिया है. बिना नंबर वाले स्‍कॉर्पियो पर सवार ये सभी शराब माफिया खुटहाडीह गांव में शराब की बड़ी खेप को उतारकर बहादुरपुर स्थित एक लाइन होटल पर बैठे हुए थे. इनके पास से स्‍कॉर्पियो में रखे एक कार्टन विदेशी शराब भी बरामद किया गया है. गिरफ्तार सभी शराब माफिया बेगूसराय, जमुई और लखीसराय के रहने वाले हैं. इन सभी आरोपियों के पास से पुलिस ने 8 मोबाइल भी बरामद किया है.

लखीसराय के एसडीपीओ रंजन कुमार ने बताया कि SP सुशील कुमार के निर्देश पर डीआईयू की टीम और बड़हिया एसएचओ डीके पांडेय, सूर्यगढ़ा एसएचओ चंदन कुमार, रामगढ़ चौक थाना एसएचओ अरविंद कुमार ने संयुक्‍त कार्रवाई कर शराब तस्‍करी के इस बड़े रैकेट का भंडाफोड़ किया. पुलिस ने बहादुरपुर स्थित एक लाइन होटल पर छापेमारी के क्रम में इन सभी माफिय को गिरफ्तार किया. गिरफ्तार शराब माफिया में मास्टरमाइंड खुटहाडीह निवासी रंजीत सिंह उर्फ रंजीत डॉन के साथ बेगूसराय के बीहट का रहने वाला कन्हैया कुमार, गुरुदासपुर निवासी सचिन कुमार और रूपनगर निवासी सौरभ कुमार को गिरफ्तार किया है. इसके अलावा जमुई जिले के गंगरा गांव निवासी विकास कुमार, प्रिंस कुमार और गोलू कुमार को भी गिरफ्तार किया गया है.

एसडीपीओ रंजन कुमार ने बताया कि गिरफ्तार विकास कुमार पूर्व में भी समस्तीपुर के दलसिंहसराय एवं लखीसराय के सूर्यगढ़ा थाना में दर्ज शराब के मामले में जेल जा चुका है. जांच के क्रम में पुलिस ने चौंकाने वाला खुलासा भी किया है. पुलिस के मुताबिक जब्त स्‍कॉर्पियो दिल्ली से चोरी कर लाई गई थी. एसडीपीओ ने बताया कि इस पूरे सिंडिकेट में लखीसराय के कई सफदेपोश लोगों का भी नाम सामने आया है. उन पर भी पुलिस की नजर है और जल्द बड़ी कार्रवाई की जाएगी.