LOCKDOWN: डाक टिकट में लगी बहादुर बेटी की तस्‍वीर, बीमार पिता को साइकिल से लेकर पहुंची थी दरभंगा

बीमार पिता को साइकिल पर बैठाकर ज्‍योति ने गुरुग्राम से दरभंगा तक का सफर किया था.
बीमार पिता को साइकिल पर बैठाकर ज्‍योति ने गुरुग्राम से दरभंगा तक का सफर किया था.

हरियाणा के गुरुग्राम (Gurugram) से पिता को साइकिल पर बिठाकर दरभंगा (Darbhanga Girl) ले जाने वाली बहादुर बेटी ज्योति की इवांका ट्रंप (Ivanka Trump) भी कर चुकी हैं तारीफ. डाक विभाग ने भी आज ज्योति को सम्मानित किया.

  • Share this:
दरभंगा. अपने बीमार पिता को साइकिल पर बिठा कर गुरुग्राम (Gurugram) से दरभंगा (Darbhaga) लाने वाली बहादुर बेटी ज्योति (Darbhanga Girl Jyoti) को सम्मानित करने का सिलसिला लगातार जारी है. इसी क्रम में डाक विभाग (Postal Department) के दरभंगा प्रमंडल के डाक अधीक्षक यूसी प्रसाद ने ज्योति की तस्वीर लगा डाक टिकट उसे सौंपा है. इससे पहले विभाग ने उसके नाम पर इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक का एक खाता खोला और पांच हजार 100 रुपए का एक चेक भी दिया. इसके अलावा, उसे गंगाजल और एलईडी बल्ब का एक-एक सेट दिया गया है.

अब डाक प्रशिक्षण केंद्र में भी होगा सम्‍मान

दरभंगा डाक प्रमंडल के अधीक्षक यूसी प्रसाद ने कहा कि ज्योति ने दरभंगा का मान पूरी दुनिया में बढ़ाया है. इसीलिए, माई स्टांप योजना के तहत उसकी तस्वीर और नाम समेत डाक टिकट जारी कर इसे उपहार के रूप में सौंपा गया है. ये उपहार जिंदगी भर के लिए यादगार रहेगा. उन्होंने कहा कि ज्‍योति के नाम पर इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक का एक खाता भी खोला गया है. साथ ही, ज्योति को 5 हजार 100 रुपये का चेक दिया गया है. उन्होंने कहा कि आनेवाले दिनों में ज्योति को दरभंगा के डाक प्रशिक्षण केंद्र के ऑडिटोरियम में बुलाकर ज्‍योति को सम्मानित किया जाएगा.



सपा ने दी एक लाख रुपए की मदद
इधर, समाजवादी पार्टी (सपा) ने ज्‍योति को मंगलवार को एक लाख रुपये की सहायता दी है. पार्टी के प्रवक्ता ने बताया कि सपा ने 15 वर्षीय ज्योति कुमार की मां फूलो देवी के बैंक खाते में मंगलवार को एक लाख रुपये भेजे हैं. उन्होंने बताया कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने 21 मई को ज्योति के जज्बे को सलाम करते हुए उसे यह सहायता देने का ऐलान किया था.

इवांका ट्रंप भी कर चुकी हैं ज्योति की तारीफ

इससे पहले अमरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका ट्रंप ने भी ज्योति की हिम्मत की तारीफ करते हुए ट्वीट किया था. अपने ट्वीट में इवांका ट्रंप ने लॉकडाउन के दौरान इस तरह की हिम्मत दिखाने के लिए ज्योति की तारीफ की थी. इसके अलावा, ज्योति की साइकिलिंग प्रतिभा को देखते हुए साइकिलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया ने ज्योति को ट्रायल के लिए बुलाया है. बिहार में कई राजनीतिक दलों ने भी दरभंगा की इस बहादुर बेटी को सम्मानित करने के लिए राज्य और केंद्र सरकार को प्रस्ताव भेजा है.

आपको बता दें ज्योति अपने पिता मोहन पासवान के साथ हरियाणा के गुरुग्राम में लॉकडाउन में फंस गई थी. उसने हिम्मत करके एक पुरानी साइकिल खरीदी और उस पर बिठा कर अपने बीमार पिता को 8 दिनों में दरभंगा लेकर पहुंची थी.

ये भी पढ़ें-

Bihar Live News: नालंदा में COVID-19 मरीज की मौत, आज 133 नए केस आए सामने

बिहार: डिवाइडर से टकरा 40 फीट नीचे नदी में गिर गई कार, पांच की मौत

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज