लाइव टीवी

मधेपुरा: 500 बेड और 10 मॉडर्न ऑपरेशन थियेटर वाले मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल का उद्घाटन करेंगे CM नीतीश कुमार
Madhepura News in Hindi

News18 Bihar
Updated: March 7, 2020, 10:57 AM IST
मधेपुरा: 500 बेड और 10 मॉडर्न ऑपरेशन थियेटर वाले मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल का उद्घाटन करेंगे CM नीतीश कुमार
मधेपुरा में जननायक मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल का उद्घाटन सीएम नीतीश कुमार करेंगे.

मेडिकल कॉलेज अस्पताल में यदि सुविधाओं की बात की जाय तो 500 बेड के अतिरिक्त यहां 95 बेड का ट्रॉमा सेंटर और आईसीयू आदि है. यहां 10 आधुनिक ऑपरेशन थियेटर की व्यवस्था है.

  • Share this:
मधेपुरा. लगभग 800 करोड़ की लगत से बनकर तैयार जन नायक कर्पूरी ठाकुर मेडिकल कॉलेज एवं आस्पताल का सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) उद्घाटन करेंगे. इस मौके पर डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी एवं स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे (Deputy CM Sushil Kumar Modi and Health Minister Mangal Pandey) भी मौजूद रहेंगे.  इस मेडिकल कॉलेज को बिहार का सबसे आधुनिक और सबसे बेहतर इन्फ्रास्ट्रक्चर वाला मेडिकल कॉलेज माना जा रहा है. मधेपुरा- सिंहेश्वर के बीच एनएच 106 के किनारे 25 एकड़ में फैले इस मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास 2014 में किया गया था.

स्थानीय लोगों की उपयोगिता के अनुसार निर्माण
इस मेडिकल कालेज का निर्माण का ठेका देश की प्रतिष्ठित निर्माण कंपनी एल एंड टी को दिया गया था. मेडिकल कॉलेज का डिजायन तैयार करने वाले फैज़ अहमद की मानें तो यह परिसर वैश्विक स्तर का है   जिसे स्थानीय लोगों की उपयोगिता के मुताबिक बनाया गया है.

ग्रीन बिल्डिंग के मानकों पर खरा



जननायक कर्पूरी ठाकुर मेडिकल कॉलेज और अस्पताल का पूरा परिसर ग्रीन बिल्डिंग के मानकों पर खरा उतरता है. इसे इस मानक के लिए भारत और आस्ट्रेलिया की संस्था ग्रीवा द्वारा पुरस्कृत भी किया जा चूका है. पूरे परिसर को एनर्जी एफिसियेंट बनाया गया है. इसकेडिज़ाइन और सुविधाओं के कारण यहां 42 प्रतिशत तक कम उर्जा की खपत होगी. उन्होंने बताया कि परिसर में अपना वाटर ट्रीटमेंट प्लांट और रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम भी लगाया गया है.



भूकंपरोधी निर्माण के कारण सुरक्षित बिल्डिंग
फैज अहमद बताते हैं कि प्राकृतिक आपदा के समय सबसे ज्यादा जिम्मेदारी अस्पताल पर होती है. लेकिन वो भी उस आपदा से जूझ रहा होता है. इसलिए इस मेडिकल कॉलेज को भूकंपरोधी बनाया गया है.  इसका भवन रिएक्टर पैमाने पर 8 तीव्रता वाली भूकंप को भी झेलने में सक्षम है. उन्होंने बताया कि परिसर में बने भवनों में 26500 मीट्रिक टन स्टील का प्रयोग किया गया है और खास बात यह है कि इसके डिजाइन को आईआईटी दिल्ली ने भी स्वीकृति प्रदान की है.

आधुनिक जांच की व्यवस्था से लैस
मेडिकल कॉलेज अस्पताल में यदि सुविधाओं की बात की जाय तो 500 बेड के अतिरिक्त यहां 95 बेड का ट्रॉमा सेंटर और आईसीयू आदि है. यहां 10 आधुनिक ऑपरेशन थियेटर की व्यवस्था है. एमआरआई, सीटी स्केन, अल्ट्रासाउंड आदि आदि आधुनिक मशीने यहां लगायी गयी हैं. मेडिकल कॉलेज परिसर में ही मरीजों के परिवारवालों के लिए 100 बेड का सभी सुविधाओं से लैश धर्मशाला भी बनाया गया है.

मेडिकल कॉलेज अस्पताल की सुविधा और इन्फ्रास्ट्रक्चर को देखकर स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय सिंह भी इसे सूबे का सबसे उम्दा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल मानते हैं. जाहिर है स्वास्थ्य सुविधाओं के मामले में उपेक्षित रहे कोसी और सीमांचल के पौने दो करोड़ लोगों के लिए यह मेडिकल कॉलेज किसी वरदान से कम नहीं हैं.

रिपोर्ट- तुरबसु


....तो क्या लालू, रामविलास और नीतीश जैसे नेताओं के लिए बंद हो जाएंगे राजनीति के दरवाजे?




बिहार: नालंदा हत्या के विरोध में हड़ताल पर गए सभी सरकारी व प्राइवेट डॉक्टर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मधेपुरा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 7, 2020, 10:53 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading