लाइव टीवी

विवादों में फंसी कार्यपालक सहायक भर्ती, 24 घंटे में रिजल्ट घोषित होने पर उठे सवाल

News18 Bihar
Updated: October 31, 2018, 8:18 PM IST
विवादों में फंसी कार्यपालक सहायक भर्ती, 24 घंटे में रिजल्ट घोषित होने पर उठे सवाल
फाइल फोटो

परीक्षा परिणाम में धांधली को लेकर डीएम नवदीप शुक्ला ने कहा कि जिला प्रशासन ने बड़ी तैयारी के साथ परीक्षा का आयोजन किया था. इसलिए चौबीस घंटे के अंदर रिजल्ट जारी कर दिया गया.

  • Share this:
मधेपुरा में कार्यपालक सहायक के 226 पदों पर बहाली के लिए 28 अक्टूबर को आयोजित परीक्षा विवादों में घिर गया है. बहाली के लिए बेरोजगारों की बड़ी फौज ने आवेदन किया है. 30 हजार आवेदकों में से लगभग 19 हजार अभ्यर्थी लिखित परीक्षा में शामिल हुए. जिला प्रशासन ने महज 24 घंटे के भीतर परीक्षा परिणाम घोषित कर दिया.

लोग प्रशासन की पहल को सराहते इससे पहले सोशल मीडिया पर कई खामियों का पोस्ट वायरल होने लगा. अगले दिन विभिन्न छात्र संगठन गड़बड़ी का आरोप लगाते सड़क पर उतर गए. विभिन्न जगहों पर डीएम का पुतला दहन किया गया और आगे भी आंदोलन तेज करने की बात हुई. छात्र संगठनों ने परिणाम में गड़बड़ी के आरोप में दूसरे दिन भी डीआरसीसी पर आंदोलन किया. जहां पुलिस ने आंदोलनकारी छात्रों को खदेड़ने के लिए बल प्रयोग किया.

ये भी पढ़ें- शहाबुद्दीन, पप्पू यादव और ब्रजेश ठाकुर जानिये बिहार के इन 3 सफेदपोशों में क्या है समानता?

इस मामले पर डीएम नवदीप शुक्ला ने कहा कि जिला प्रशासन ने बड़ी तैयारी के साथ परीक्षा का आयोजन किया था और 24 घंटे के भीतर परीक्षा परिणाम घोषित किया. जिस बात की तारीफ होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि जिन अभ्यर्थियों को कोई शिकायत है, उसके लिए आपत्ति की तिथि निर्धारित हैं. लोग आपत्ति देंगे तो उसके निष्पादन के बाद ही अंतिम परिणाम प्रकाशित किया जाएगा.

ये भी पढ़ें- सीएम के गृह जिले में अपराधियों का कहर, 48 घंटे के दौरान 6 लोगों को मारी गोली, तीन की मौत

हालत को देख यही कहा जा सकते है कि मधेपुरा जिला प्रशासन चली तो थी रिकॉर्ड बनाने लेकिन बेईमानी का आरोप लग गया. अब इस आरोप में कितनी सच्चाई है, यह तो जांच के बाद ही पता चलेगा.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मधेपुरा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 31, 2018, 8:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...