लाइव टीवी

फसल लगे खेत में कन्हैया ने की जनसभा, बोले- विकास का ढोल फट गया तो ले आए NRC-CAA का मुद्दा
Madhepura News in Hindi

TURBASU | News18 Bihar
Updated: February 7, 2020, 11:31 AM IST
फसल लगे खेत में कन्हैया ने की जनसभा, बोले- विकास का ढोल फट गया तो ले आए NRC-CAA का मुद्दा
CAA-NRC के विरोध में कन्हैया कुमार इन दिनों बिहार में 'जन मन गण यात्रा' निकाल रहे हैं (फाइल फोटो)

कन्हैया कुमार (Kanhiaya Kumar) ने केंद्र सरकार (Central Government) पर जमकर हमला किया. कन्हैया ने केंद्र सरकार की नीतियों को धर्म के नाम पर बांटने वाला बताया और कहा कि देश एक बार धर्म के आधार पर बंट चुका है अब इसे बंटने नहीं दिया जाएगा.

  • Share this:
मधेपुरा. एनपीआर, एनआरसी (NRC) और सीएए (CAA) के विरोध में जन संघर्ष मोर्चा द्वारा आयोजित जन गन मन यात्रा के दौरान जेएनयू (JNU) छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार (Kanhaia Kumar) मधेपुरा पहुंचे. यहां भारी सुरक्षा के बीच सिंहेश्वर थाना क्षेत्र के झिटकिया गावं में एनएच 106 के किनारे किसानों के फसल लगे खेत में उन्होंने विशाल जन सभा की. इस सभा में काफी संख्या में लोग कन्हैया को देखने और सुनने के लिए उमड़े थे. कन्हैया के साथ कांग्रेस विधायक शकील अहमद, जामिया के छात्र वली रहमानी भी इस सभा में शामिल हुए.

बंद करना होगा धर्मा का धंधा

अपने संबोधन में कन्हैया कुमार ने केंद्र सरकार पर जमकर हमला किया. कन्हैया ने केंद्र सरकार की नीतियों को धर्म के नाम पर बांटने वाला बताया और कहा कि देश एक बार धर्म के आधार पर बंट चुका है अब इसे बंटने नहीं दिया जाएगा और धर्म का धंधा करने वाले का धंधा बंद करना होगा. कन्हैया ने कहा कि सरकार संविधान की ताकत को कमजोर करने के लिए और लोगों को मूल मुद्दा से भटकाने के लिए धर्म का उन्माद फैला रही है.

सरकारी संपत्ति बेच रही है सरकार



उन्होंने कहा कि लोग एनआरसी और सीएए के जुमले में फंसे हैं और सरकार सरकारी संपत्ति को बेच रही है. उन्होंने सरकार के राष्ट्रवाद पर सवाल करते हुए कहा कि यह पहली सरकार है जो सरकारी संपत्ति को बेच रही है. कन्हैया ने कहा कि जब सरकारी विद्यालय नहीं, अस्पताल नहीं तो सरकारी गृह मंत्री और सरकार का क्या काम है. उन्होंने अपने संबोधन में मधेपुरा की जर्जर एनएच का भी जिक्र किया.

29 फरवरी की रैली का दिया न्योता

कन्हैया ने कहा कि नेता जी हेलीकाप्टर से आते हैं और उनका बेटा विदेश में पढ़ता है. उन्हें पता नहीं चलता है कि मधेपुरा और सहरसा के बीच की सड़क पर कितने गड्ढे हैं. उन्होंने पीएम मोदी पर चुटकी लेते हुए कहा कि सरकार का विकास का ढोल फट चुका है इसलिए वो एनआरसी और सीएए का मुद्दा लाए हैं. उन्होंने एनआरसी, एनपीआर और सीएए पर जनसमर्थन मांगा और उसके विरुद्ध आम जनता से लड़ने का आह्वान किया. कन्हैया ने 29 फ़रवरी को पटना में आयोजित एनआरसी , एनपीआर और सीएए के विरोध में आयोजित रैली में शामिल होने का आम लोगों से आह्वान किया.

ये भी पढ़ें- नीतीश के अफसरों के कारण ही डूबा था पटना, जांच रिपोर्ट में हुआ खुलासा

ये भी पढ़ें- बिहार पुलिस के DG बोले- चेक पोस्ट-ट्रैफिक ड्यूटी लेने के लिए घूस देते हैं जवान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मधेपुरा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 7, 2020, 11:23 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर