लाइव टीवी

मधेपुरा शॉर्ट स्टे होम से सुपौल भेजी गईं 13 महिलाएं, TISS की रिपोर्ट पर हुई कार्रवाई

Alok Kumar | News18 Bihar
Updated: August 8, 2018, 11:19 AM IST
मधेपुरा शॉर्ट स्टे होम से सुपौल भेजी गईं 13 महिलाएं, TISS की रिपोर्ट पर हुई कार्रवाई
मधेपुरा से शिफ्ट हुई महिलाओं ने यौन उत्पीड़न की शिकायत नहीं की है

मुजफ्फरपुर बालिका गृह सेक्स स्कैंडल के बाद जारी जांच के तहत मधेपुरा के शॉर्ट स्टे होम यानी अल्पावास गृह में रहने वाली महिलाओं को सुपौल भेज दिया गया है.

  • Share this:
मुजफ्फरपुर बालिका गृह सेक्स स्कैंडल के बाद जारी जांच के तहत मधेपुरा के शॉर्ट स्टे होम यानी अल्पावास गृह में रहने वाली महिलाओं को सुपौल भेज दिया गया है. मधेपुरा स्टे होम भी एक एनजीओ महिला चेतना विकास मंडल के जरिए संचालित हो रहा था.

मधेपुरा के समाज कल्याण अधिकारी प्रवीण कुमार ने न्यूज18 को बताया कि टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज (टिस) की सोशल ऑडिट रिपोर्ट के आधार पर यहां रहने वाली महिलाओं को सुपौल भेजा गया है.

उन्होंने कहा कि सुपौल में जिस शेल्टर होम में उन्हें रखा गया है वो भी एक एनजीओ से ही संचालित होता है. जाने से पहले इन महिलाओं की मेडिकल जांच मधेपुरा सदर अस्पताल में कराई गई. प्रवीण कुमार ने इसे स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर बताते हुए कहा कि कभी भी एक जगह से दूसरी जगह ले जाने से पहले स्वास्थ्य जांच कराए जाने का प्रावधान है.

उन्होंने बताया कि टिस की रिपोर्ट में मधेपुरा शॉर्ट स्टे होम में कई खामियों का जिक्र था. यहां के कमरे छोटे थे, साफ-सफाई की व्यवस्था ठीक नहीं थी और नियमित खान-पान में खामियों का जिक्र किया गया था.

बकौल प्रवीण इसी आधार पर इन महिलाओं को सुपौल भेजा गया है. उन्होंने महिलाओं के साथ किसी तरह के उत्पीड़न की रिपोर्टों से साफ इनकार किया.

जिन 13 महिलाओं को सुपौल भेजा गया है उनमें नौ विवाहित हैं और मधेपुरा की ही हैं. इन्हें कोर्ट के आदेश से यहां भेजा गया था. दो महिलाएं भटकी हुई हैं जिनमें एक महाराष्ट्र की और एक बंगाल की है.

ब्रजेश ठाकुर के एनजीओ से संचालित मुजफ्फरपुर बालिका गृह में सेक्स स्कैंडल के बाद प्रशासनिक महकमें में हड़कंप मचा हुआ है जहां रहने वाली 34 नाबालिग लड़कियों के साथ रेप की पुष्टि हुई है.
Loading...

टिस ने राज्य के सभी 110 शेल्टर होम्स की सोशल ऑडिट रिपोर्ट राज्य सरकार को इसी साल मार्च में सौंप दी थी. इसी रिपोर्ट के आधार पर राज्य सरकार हर जिले में कार्रवाई कर रही है.

(मधेपुरा से तुर्बसु के इनपुट के साथ)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मधेपुरा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 8, 2018, 10:49 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...