Home /News /bihar /

नकलचियों के आगे प्रशासन की सख्ती नहीं आई काम, परीक्षार्थियों ने खूब की तांक झांक

नकलचियों के आगे प्रशासन की सख्ती नहीं आई काम, परीक्षार्थियों ने खूब की तांक झांक

मधुबनी सरकार भले ही नकल रोकने के तमाम उपाय किएं हों लेकिन मधुबनी में मैट्रिक की परीक्षा में कदाचार को रोकनें में प्रशासन लाचार दिखा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सख्त आदेश के बाद लगा कि मैट्रिक परीक्षा में नकल रुक जाएगी, लेकिन नकलचियों के आगे प्रशासन की सख्ती काम नहीं आई। मधुबनी जिले के 50 परीक्षा केंद्रों पर मैट्रिक की परीक्षा जारी रही। परीक्षा के दौरान जगह-जगह से कदाचार की खबरें मिली हैं। अधिकांश परीक्षा केंद्र पर एक ही बेंच पर तीन परीक्षार्थी के बैठने से एक दूसरे की कॉपी से तांक झांक होती रही।

मधुबनी सरकार भले ही नकल रोकने के तमाम उपाय किएं हों लेकिन मधुबनी में मैट्रिक की परीक्षा में कदाचार को रोकनें में प्रशासन लाचार दिखा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सख्त आदेश के बाद लगा कि मैट्रिक परीक्षा में नकल रुक जाएगी, लेकिन नकलचियों के आगे प्रशासन की सख्ती काम नहीं आई। मधुबनी जिले के 50 परीक्षा केंद्रों पर मैट्रिक की परीक्षा जारी रही। परीक्षा के दौरान जगह-जगह से कदाचार की खबरें मिली हैं। अधिकांश परीक्षा केंद्र पर एक ही बेंच पर तीन परीक्षार्थी के बैठने से एक दूसरे की कॉपी से तांक झांक होती रही।

मधुबनी सरकार भले ही नकल रोकने के तमाम उपाय किएं हों लेकिन मधुबनी में मैट्रिक की परीक्षा में कदाचार को रोकनें में प्रशासन लाचार दिखा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सख्त आदेश के बाद लगा कि मैट्रिक परीक्षा में नकल रुक जाएगी, लेकिन नकलचियों के आगे प्रशासन की सख्ती काम नहीं आई। मधुबनी जिले के 50 परीक्षा केंद्रों पर मैट्रिक की परीक्षा जारी रही। परीक्षा के दौरान जगह-जगह से कदाचार की खबरें मिली हैं। अधिकांश परीक्षा केंद्र पर एक ही बेंच पर तीन परीक्षार्थी के बैठने से एक दूसरे की कॉपी से तांक झांक होती रही।

अधिक पढ़ें ...
    मधुबनी सरकार भले ही नकल रोकने के तमाम उपाय किएं हों लेकिन मधुबनी में मैट्रिक की परीक्षा में कदाचार को रोकनें में प्रशासन लाचार दिखा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सख्त आदेश के बाद लगा कि मैट्रिक परीक्षा में नकल रुक जाएगी, लेकिन नकलचियों के आगे प्रशासन की सख्ती काम नहीं आई। मधुबनी जिले के 50 परीक्षा केंद्रों पर मैट्रिक की परीक्षा जारी रही। परीक्षा के दौरान जगह-जगह से कदाचार की खबरें मिली हैं। अधिकांश परीक्षा केंद्र पर एक ही बेंच पर तीन परीक्षार्थी के बैठने से एक दूसरे की कॉपी से तांक झांक होती रही।

    शहर के मदरसा इस्लामियां परीक्षा केंद्र पर फर्जी तरीके से परीक्षा दे रहे एक छात्र को सोमवार को गिरफ्तार कर लिया गया। एडमिट कार्ड के निरीक्षण के दौरान फोटो में छेड़छाड़ की घटना पाई गई।

    आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर