पुलिस को बड़ी सफलता, बालिका गृह से भागी दो महिलाओं का पता चला

बिहार के मधुबनी में चल रहे एक बालिका गृह से आठ महीने पहले भागी दो महिलाओं का पता चल गया है. इनमें से एक मधुबनी के ही राजनगर ब्लॉक में रहती है और दूसरी हरियाणा अपने घर वापस चली गई थी.

News18 Bihar
Updated: August 11, 2018, 6:27 AM IST
पुलिस को बड़ी सफलता, बालिका गृह से भागी दो महिलाओं का पता चला
सांकेतिक तस्वीर
News18 Bihar
Updated: August 11, 2018, 6:27 AM IST
बिहार के मधुबनी में चल रहे एक बालिका गृह से आठ महीने पहले भागी दो महिलाओं का पता चल गया है. इनमें से एक मधुबनी के ही राजनगर ब्लॉक में रहती है और दूसरी हरियाणा अपने घर वापस चली गई थी.

मधुबनी के एसपी दीपक वर्णवाल ने न्यूज18 को बताया कि इस मामले में बालिका गृह का संचालन करने वाले एनजीओ परिहार सेवा संस्थान ने एफआईआर दर्ज कराया था. अब इन दोनों को सिर्फ उपस्थिति के लिए वापस बुलाकर केस क्लोज कर दिया जाएगा और ये वापस जा सकेंगी.

पुलिस इनकी तलाश कर ही रही थी कि अचानक मुजफ्फरपुर बालिका गृह सेक्स स्कैंडल के बाद मामले ने तूल पकड़ लिया. मुजफ्फरपुर से 14 लड़कियों को मधुबनी शिफ्ट किया गया था जिनमें से एक दिव्यांग लड़की 12 जुलाई को दीवार फांद कर भाग गई. ये लड़की उन दो महिलाओं से अलग है और इसे अभी पुलिस खोज ही रही है.

परिहार सेवा संस्थान की सचिव प्रज्ञा भारती ने न्यूज18 से कहा कि जिस महिला के राजनगर ब्लॉक में रहने का पता चला है उसकी शादी हो चुकी है. एक स्थानीय व्यक्ति ने बताया कि राजनगर थानेदार उसके घर तक पहुंच गए थे लेकिन पुलिसिया कार्रवाई कर जबरन उसे मधुबनी लाने से पारिवारिक रिश्ते बिगड़ने का खतरा है, इसलिए सिर्फ 'फाइंडिंग' मार्क किया गया है.

प्रज्ञा ने बताया कि दोनो महिलाएं पिछले साल दिसंबर में बालिका गृह से भागी थी. एसपी वर्णवाल ने बताया कि हरियाणा  में जिस महिला का पता चला है, उसे भी एक बार वापस लाने की तैयारी हो रही है.

उधर प्रज्ञा ने दावा किया कि परिहार संचालित बालिका गृह की व्यवस्था पर टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज (टिस) की रिपोर्ट में कोई नकारात्मक टिप्पणी नहीं की गई है, और इसीलिए जब मुजफ्फरपुर की पीड़िताओं को शिफ्ट करने की योजना बनी तो मधुबनी बालिका गृह का चयन किया गया.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर