Home /News /bihar /

Big News: पत्रकार अविनाश झा हत्या मामले में प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया ने लिया संज्ञान, बिहार के मुख्य सचिव और DGP से मांगी रिपोर्ट

Big News: पत्रकार अविनाश झा हत्या मामले में प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया ने लिया संज्ञान, बिहार के मुख्य सचिव और DGP से मांगी रिपोर्ट

पत्रकार सह आरटीआई एक्टिविस्ट बुद्धिनाथ झा उर्फ अविनाश झा हत्या मामले में प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया ने संज्ञान लिया है.

पत्रकार सह आरटीआई एक्टिविस्ट बुद्धिनाथ झा उर्फ अविनाश झा हत्या मामले में प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया ने संज्ञान लिया है.

Journalist Avinash Jha Murder Case: पत्रकार सह आरटीआई एक्टिविस्ट बुद्धिनाथ झा उर्फ अविनाश झा की निर्मम हत्या के बाद देशभर से इस घटना के खिलाफ विरोध के सुर उठने लगे हैं. अब ऐसे में प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया का इस मामले में संज्ञान लेना एक बड़ा कदम माना जा रहा है.

अधिक पढ़ें ...

मधुबनी. बिहार के मधुबनी (Madhubani) जिले के बेनीपट्टी के पत्रकार सह आरटीआई एक्टिविस्ट बुद्धिनाथ झा (Buddhinath Jha) उर्फ अविनाश झा (Avinash Jha) के अपहरण बाद हत्या मामले में अब प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया ने भी संज्ञान लिया है. प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया के चेयरमैन जस्टिस चंद्रमौली कुमार प्रसाद ने बिहार सरकार के मुख्य सचिव और डीजीपी, बिहार से अविनाश हत्याकांड को लेकर सभी बिंदुओं पर जांच कर रिपोर्ट तलब किया है. अब ऐसे में बिहार सरकार के मुख्य सचिव और डीजीपी को इस पूरे मामले की जांच कर रिपोर्ट प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया (Press Council Of India) को सौंपनी होगी. बता दें, पत्रकार अविनाश झा की निर्मम हत्या के बाद देशभर से इस घटना के खिलाफ विरोध के सुर उठने लगे हैं. अब ऐसे में प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया का इस मामले में संज्ञान लेना एक बड़ा कदम माना जा रहा है.

बता दें, 9 नवम्बर को मधुबनी जिले के बेनीपट्टी (BeniPatti) थाने से महज 400 मीटर की दूरी से पत्रकार सह आरटीआई एक्टिविस्ट बुद्धिनाथ झा उर्फ अविनाश झा का अपहरण कर लिया गया था. 9 नवम्बर को अविनाश अपने घर के पास से रात के 10 बजे करीब निकले थे, जिन्हें अंतिम बार उसी रात 10.10 बजे थाने से 400 मीटर की दूरी पर देखा गया था. इसके बाद से वह गायब रहे, 10 नवम्बर को अविनाश की गुमशुदगी की जानकारी थाने को दी गई. 11 नवम्बर को अविनाश के मंझले भाई चंद्रशेखर झा ने थाने को आवेदन देकर 11 क्लीनिकों पर नामजद मुकदमा किया. जिसके अगले दिन 12 तारीख की शाम बेनीपट्टी थाने से करीब 5 किलोमीटर की दूरी पर अविनाश का शव उड़ेन गांव में मिला, जिसके बाद उसी रात उनके शव का पोस्टमार्टम हुआ व 13 नवंबर को उनका सिमरिया में अंतिम संस्कार किया गया.
अविनाश ने लिखा था खेला होबे…
अविनाश के गायब होने से 2 दिन पहले 7 नवम्बर को उन्होंने अपने फेसबुक पर एक पोस्ट डाला था, जिसमें करीब 8-9 अस्पतालों के खिलाफ कार्रवाई होने वाली थी, जिसमें उन्होंने कैप्शन दिया था.. खेला होबे… Game Starts 15.11.2021 और इसके बाद ही 9 नवम्बर को अविनाश का अपहरण कर लिया गया और 12 नवंबर को उनकी लाश मिली.

नर्सिंग होम पर हुई कार्रवाई
बताया जाता है कि जिस संभावित खेला की बात अविनाश ने की थी. वह नजर भी आया. 15 नवम्बर को अनन्या नर्सिंग होम व अनुराग हेल्थ केयर पर बुद्धिनाथ झा के आवेदन के आलोक में कार्रवाई हुई और दोनों पर मधुबनी के सिविल सर्जन ने 50-50 हज़ार का जुर्माना लगाया गया व अस्पताल बंद करने का आदेश जारी किया.

नर्स की हुई है गिरफ्तारी
बता दें, अनुराग हेल्थ केयर की नर्स पूर्णकला देवी को अविनाश के अपहरण व हत्या मामले में गिरफ्तार किया गया. पुलिस बयान के अनुसार पूर्णकला ने ही अविनाश को 9 तारीख को कॉल करके कटैया रोड बुलाया था. साथ ही बता दें कि बुद्धिनाथ के भाई ने उक्त दोनों अस्पताल पर एफआईआर भी दर्ज किया था.

पुलिस की जांच पर उठ रहे हैं सवाल
इधर इस मामले में पुलिस की जांच को लेकर चौतरफा सवाल भी उठ रहे हैं. परिजन लगातार अविनाश के हत्या के पीछे की असली वजह व हत्या के मुख्य साजिशकर्ताओं की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं. इस मामले में अब तक एक नर्स समेत 6 लोगों की गिरफ्तारी हुई है. परिजनों ने इन गिरफ्तारियों पर कहा है कि इन लोगों को मोहरा बनाया गया है, इनके पीछे बड़े मेडिकल माफियाओं का हाथ है.

फर्जी नर्सिंग होम के खिलाफ मुहिम चला रहे थे अविनाश

दरअसल अविनाश झा पिछले दो सालों से बेनीपट्टी के फर्जी नर्सिंग होम पर लगातार आरटीआई व परिवाद के माध्यम से कार्रवाई करवा रहे थे, जिसके कारण फर्जी नर्सिंग होम संचालकों से उनकी दुश्मनी बढ़ती जा रही थी. अविनाश का एक फेसबुक लाइव वीडियो भी सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है जिसमें वह कई अस्पतालों की पोल खोल साक्ष्य दिखाने की बात करते नजर आ रहे हैं

Tags: Bihar News, Journalist, Madhubani news, PATNA NEWS, RTI

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर