लाइव टीवी

क्वारंटाइन सेंटर से निकालकर ग्रामीणों ने करा दी नाबालिग प्रेमी युगल की शादी! उड़ी सोशल डिस्टेंस की धज्जियां
Madhubani News in Hindi

Amit Ranjan | News18 Bihar
Updated: May 22, 2020, 3:33 PM IST
क्वारंटाइन सेंटर से निकालकर ग्रामीणों ने करा दी नाबालिग प्रेमी युगल की शादी! उड़ी सोशल डिस्टेंस की धज्जियां
मधुबनी (Madhubani) में बीते बुधवार को ग्रामीणों ने प्रेमी जोड़े को क्वारंटाइन सेंटर (Quarantine Center) से निकालकर पास के मंदिर में दोनों की शादी करा दी. बताया जा रहा है कि शादी कराने के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों की परवाह न करते हुए काफी संख्या में ग्रामीण इकट्ठा हो गए.

मधुबनी (Madhubani) में बीते बुधवार को ग्रामीणों ने प्रेमी जोड़े को क्वारंटाइन सेंटर (Quarantine Center) से निकालकर पास के मंदिर में दोनों की शादी करा दी. बताया जा रहा है कि शादी कराने के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों की परवाह न करते हुए काफी संख्या में ग्रामीण इकट्ठा हो गए.

  • Share this:
मधुबनी. दिल्ली (Delhi) से आए प्रेमी जोड़े की मंदिर में कराई गई शादी का वीडियो जब सोशल मीडिया में वायरल हुआ तो इस मामले का खुलासा हुआ. क्वारंटाइन (Quarantine Center) सेंटर के नियमों की धज्जियां उड़ाने वाली यह घटना मधुबनी (Madhubani) के बेनीपट्टी प्रखंड स्थित नवकरही गांव की बताई जा रही है. मिली जानकारी के मुताबिक नवकरही गांव निवासी एक युवक दिल्ली से लड़की को भगा कर गांव ले आया था.

इन दोनों को गांव के मिडिल स्कूल में क्वारंटाइन कराया गया था. क्वारंटाइन सेंटर में 2 दिन बीतने के बाद बीते बुधवार की देर शाम ग्रामीणों ने इस प्रेमी जोड़े को क्वारंटाइन सेंटर से बाहर निकालकर पास में ही स्थित मंदिर में दोनों की शादी करा दी. बताया जा रहा है कि शादी कराने के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों की परवाह न करते हुए काफी संख्या में ग्रामीण इकट्ठा हो गए. हैरत की बात यह है कि घंटों तक शादी का कार्यक्रम चलता रहा, लेकिन पंचायत के जनप्रतिनिधि और प्रशासन को इसकी भनक तक नहीं लगी.

एसडीएम ने दिया जांच के बाद कार्रवाई का भरोसा
इस मामले में नवकरही पंचायत के मुखिया कृपानंद झा आजाद का कहना है कि, ‘मुखिया संघ की मीटिंग के सिलसिले में गांव से बाहर होने के चलते उन्हें जानकारी नहीं मिल पाई थ, लेकिन कोरोना संकट के बीच इस तरह की लापरवाही खतरनाक है’. मुखिया ने प्रेमी युगल के नाबालिग होने की भी आशंका जताते हुए दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है. वहीं वीडियो सामने आने के बाद एसडीएम मुकेश रंजन ने मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच के बाद कार्रवाई करने का भरोसा दिया है.



खतरनाक हो सकती है ऐसी लापरवाही


देश भर में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या दिनों-दिन तेजी से बढ़ रही है. ऐसे मुश्किल वक्त में सरकारी अमले के साथ ही निजी स्तर पर भी तमाम कोरोना वॉरियर्स दिन-रात इस कोशिश में लगे हैं कि किसी भी तरह कोरोना वायरस के संक्रमण को ब्रेक करने में कामयाबी मिले, लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं जो बार-बार आगाह करने के बाद भी शासन-प्रशासन की मेहनत पर पानी फेरने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं. ऐेसे लोगों के लिए क्वारंटाइन सेंटर के नियम कानून या फिर सोशल डिस्टेंसिंग मजाक से ज्यादा कुछ नहीं है.

ये भी पढ़ें - 

मजदूर की मजबूरी: 10 दिन में 780 KM पैदल चला श्रमिक, 7 दिन नसीब नहीं हुई रोटी

RPF ने 14 दलालों को किया गिरफ्तार, ₹ 6 लाख से अधिक का टिकट बरामद
First published: May 22, 2020, 3:32 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading