VIDEO: 15 साल मेहनत की पर पार्टी ने नहीं दिया टिकट, मीडिया के सामने फूट-फूटकर रोने लगे राजद नेता

नहीं मिला टिकट तो रो पड़े राजद नेता सुरेश यादव.
नहीं मिला टिकट तो रो पड़े राजद नेता सुरेश यादव.

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस वीडियो (video viral on social media) में साफ देखा जा सकता है कि सुरेश यादव (Suresh Yadav) किस कदर दुखी हैं और अपनी बात रोते हुए कह रहे हैं

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 17, 2020, 3:26 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार में गठबंधनों के भरमार के बीच कई ऐसे प्रत्याशी हैं जो अपनी पार्टियों से शिद्दत से जुड़े रहे हैं, लेकिन अंतिम समय में वे बेटिकट हो गए. इसके पीछे कई बार वजह होती है कि जो सीट गठबंधन में दूसरी पार्टी को चली गई वहां से वास्तविक दावेदार हाथ मलते रह गए. एक ऐसे ही नेता हैं पूर्वी चंपारण (East Champaran) जिला में आने वाले रक्सौल विधानसभा सीट (Raxaul Assembly Seat) से आरजेडी के सुरेश यादव (Suresh Yadav of RJD). बता दें कि 15 सालों राजद के लिए दिन रात एक करने के बाद भी उन्हें टिकट नहीं मिला. मिली जानकारी के मुताबिक इस बार वह  चुनाव लड़ने की पूरी तैयारी में थे। लेकिन रक्सौल सीट कांग्रेस के खाते में चली गई और वह बेटिकट हो गए. अब एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें वह फूट-फूटकर रोते हुए दिख रहे हैं.

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि सुरेश यादव किस कदर दुखी हैं और अपनी बात रोते हुए कह रहे हैं. दरअसल मीडिया से वह बात कर रहे थे तो वह खुद को रोक नहीं पाए और रोने लगे.





सुरेश यादव ने कहा कि टिकट कटने से परिवार से लेकर समाज में महागठबंधन के प्रति गुस्सा है, इसलिए मैं 19 अक्टूबर को रक्सौल विधानसभा सीट से निर्दलीय ही नामांकन करूंगा और अब जनता की अदालत में ही फैसला होगा. जो भी जनता फैसला करेगी हम वही काम करेंगे. गौरतलब है कि रक्सौल विधानसभा सीट से इस बार महागठबंधन से कांग्रेस के रामबाबू यादव को अपना प्रत्याशी बनाया है.
बता दें कि सुरेश यादव का टिकट तो कट गया, लेकिन यह भी एक हकीकत है कि राजद ने कई ऐसे लोगो ंको टिकट दिया है जो पहले दूसरी पार्टियों में थे और अब वे दल बदलकर राजद में आए हैं. इनमें से प्रमुख नाम रामा सिंह लोजपा से आए हैं जिनकी पत्नी वीणा सिंह को पार्टी ने महनार से उम्मीदवार बनाया है. बसपा के प्रदेश अध्यक्ष रहे भरत बिंद राजद में शामिल हुए और पार्टी ने उन्हें भभुआ से तो रालोसपा के प्रदेश अध्यक्ष रहे भूदेव चौधरी को धोरैया से सिंबल थमा दिया.

पूर्व सांसद लवली आनंद राजद में शामिल हुईं और खुद सहरसा से तो बेटे चेतन आनंद को शिवहर से टिकट ले लिया. जबकि, खगड़िया के सांसद चौधरी महबूब अली कैसर के बेटे चौधरी युसूफ कैसर राजद में शामिल हुए और सिमरी बख्तियारपुर से सिंबल ले लिया. मो. कामरान रालोसपा में थे और राजद ने उम्मीदवार बना दिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज