बिहार में बाढ़: जब देखते ही देखते महज 5 सेंकेंड में जमींदोज हो गई पुलिया
Motihari News in Hindi

बिहार में बाढ़: जब देखते ही देखते महज 5 सेंकेंड में जमींदोज हो गई पुलिया
मोतिहारी में बाढ़ के कारण गिरी पुलिया

Flood in Bihar: बिहार का पूर्वी चम्पारण जिला इन दिनों बुरी तरह से बाढ़ की त्रासदी झेल रहा है. जिले में करीब दो लाख की आबादी बाढ़ की चपेट में है.

  • Share this:
मोतिहारी. बिहार के कई हिस्सों में बाढ़ (Bihar Flood) की विनाशकारी लीला जारी है. पूर्वी चम्पारण में आया प्रलयकारी बाढ़ प्रतिदिन जिले के नये इलाकों में फैलता जा रहा है और पानी तबाही मचा रही है. बाढ़ ने कोटवा प्रखंड में भी तबाही मचाई है. यहा एक पुलिया देखते ही देखते ध्‍वस्‍त हो गई. नेशनल हाइवे 28 (NH-28) को जोड़ने वाले धनगढहां भोपतपुर बझिया बाजार के बीच सौमवती नदी का पुल बाढ़ के पानी के दबाव को नहीं झेल सका और महज कुछ ही सेकेंड में धराशाई हो कर नदी में समा गया.

पुल के ध्वस्त होने से ग्रामीणों को आवागमन में भारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है. जानकारी के मुताबिक, पुल का निर्माण करीब दो दशक पूर्व हुआ था. कोटवा प्रखंड के गांवों में गंडक नदी में पानी बढ़ने से सोमवती नदी भी उफान पर है. बाढ़ के पानी ने कोचवा प्रखंड में भी तबाही मचाना शुरू किया है. बारिश ने पहले से ही खेत और तालाब को लबालब कर रखा है, ऐसे में थोड़ा भी अधिक पानी भयावह रूप अख्तियार कर ले रहा है.

बाढ़ से दो लाख की आबादी प्रभावित
पूर्वी चम्पारण जिला इन दिनों बुरी तरह से बाढ़ की त्रासदी को झेल रहा है. जिले में करीब दो लाख की आबादी बाढ़ की विभिषिका से परेशान है. साथ ही रोजना बाढ़ का फैलाव जिले के नये इलाकों में हो रहा है. नेपाल से पूर्वी चम्पारण में आने वाली सभी छोटी बड़ी नदियां इस साल उफान पर हैं. इस कारण जिले के अधिकांश प्रखंड बाढ़ प्रभावित हो चुके हैं. सबसे अधिक परेशानी संग्रामपुर और पताही के साथ साथ बंजरिया प्रखंड के निवासी झेल रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading