लाइव टीवी

बिहार में है कानून का राज, न्याय के साथ विकास के रास्ते पर बढ़ रहा है प्रदेश-नीतीश कुमार

News18 Bihar
Updated: December 4, 2019, 3:57 PM IST
बिहार में है कानून का राज, न्याय के साथ विकास के रास्ते पर बढ़ रहा है प्रदेश-नीतीश कुमार
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार में कानून का राज है.

सीएम नीतीश ने लोगों से खेत में पुआल में आग नहीं लगाने की अपील करते हुए कहा कि इससे खेत की उर्वरा शक्ति कम होती है, इसलिए लोग इसे जलाए नहीं बल्कि मशीनों से उसका दूसरा उपयोग करें. उन्होंने कहा कि फसल अवशेष को जलाने से बचने के लिए मशीन पर सरकार सब्सिडी देगी.

  • Share this:
पटना. सीएम नीतीश कुमार (Nitish Kumar) अपने मुख्यमंत्रित्व काल की 12वीं बिहार यात्रा पर निकले हैं. मंगलवार से शुरू हुई जल जीवन हरियाली यात्रा (Jal Jeevan Hariyali Yatra) के दूसरे दिन बुधवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पूर्वी चम्पारण जिले के अरेराज पहुंचे. वहां उन्होंने 1042 करोड़ रुपये की 96 योजनाओं का उद्घाटन व 493 योजनाओं का शिलान्यास  किया. इस मौके पर अपने संबोधन में सीएम ने कहा कि हमने बिहार में कानून का राज स्थापित किया है. हम न्याय के साथ विकास के रास्ते पर हैं. उन्होंने किसानों से पराली नहीं जलाने की अपील भी की.

उन्होंने कहा कि पुआल में आग लगने से खेत की उर्वरा शक्ति कम होती है इसलिए लोग इसे जलाए नहीं बल्कि मशीनों से उसका दूसरा उपयोग करें. किसान खेत में पुआल नहीं जलाए, इससे वायु प्रदूषण होता है. पुआल जलाने की प्रवृति को खत्म करना है. सीएम नीतीश ने घोषणा की कि फसल अवशेष को जलाने से बचने के लिए मशीन पर सरकार सब्सिडी देगी.

मुख्यमंत्री ने कहा कि चाहे मनुष्य हो पक्षी हो या फिर जानवर सब को जल की जरूरत है. उन्होंने सवाल पूछा कि भूजल और नीचे जाएगा तो पीने के लिए पानी कहां मिलेगा? इसलिए जल जीवन हरियाली अभियान चलाया जा रहा है. उन्होंने जानकारी दी कि इसके तहत 11 कार्यक्रम हैं और अभियान तीन साल में पूरा होगा.

सीएम नीतीश कुमार जल जीवन हरियाली यात्रा पर बिहार के चार जिलों का भ्रमण कर रहे हैं.


उन्होंने कहा कि इसके तहत सब जल स्रोतों का जीर्णोद्धार करवा रहे हैं. चापाकल और कुआं सब बनवाया जा रहा है. अगर अतिक्रमण है तो उसे भी खाली कराया जा रहा है. सार्वजनिक कुआं और चापाकल के बगल से सोख्ता का निर्माण हो रहा है.

उन्होंने कहा कि छोटी नदियों और जंगल-पहाड़ में चेकडैम बनाए जाएंगे. पानी बचाएंगे तो धरती का भूजल स्तर बना रहेगा. ये जल जीवन अभियान पृथ्वी की रक्षा के लिए बहुत जरूरी है. सीएम नीतीश ने लोगों से  19 जनवरी 2020 में आयोजित की जाने वाली मानव श्रृंखला में शामिल होने की अपील की.

मुख्यमंत्री ने कहा कि हम आपकी सभी समस्याओं पर नजर रहते हैं. महिलाओं के कहने पर हमने बिहार में शराब बंदी की. हमने खेती के लिए बिजली का दर घटा दिया है. वहीं, कृषि यंत्रों की खरीदारी के लिए सरकार सब्सिडी देगी.  मौसम के अनुकूल खेती होगी तो किसानों की आमदनी बढ़ेगी.
Loading...

सीएम ने कहा कि हरियाली को लेकर बड़े पैमाने पर पौधारोपण होगा. इसके तहत 8 करोड़ पौधे लगाने का लक्ष्य रखा गया है. उन्होंने लोगों से नल का जल पीने की अपील करते हुए कहा कि जल संरक्षण को लेकर भी कई योजनाएं बनाई गई हैं.

सीएम नीतीश ने कहा कि जब चंपारण की धरती के प्रति मेरे मन में अपार श्रद्धा है. हमने जब भी कोई शुरुआत की चंपारण से शुरुआत की है. हमने हर प्रकार से बिहार के विकास के लिए काम किया. आज कई योजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास हुआ. हमने बिहार का विकास किया, प्रति व्यक्ति लोगों की आय बढ़ी.

बता दें कि संबोधन से पहले सीएम नीतीश ने स्वयं सहायता समूह के बीच 7.77 करोड़ का चेक वितरित किए. इससे पहले अनुमंडल क्षेत्र के पीपरा में मनरेगा पार्क, हेल्थ वेलनेस सेंटर, मनरेगा तालाब, ड्रिप सिंचाई से की गई आलू की खेती, कचरा प्रबंधन सहित कई कार्यो का जायजा भी लिया.

ये भी पढ़ें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पूर्वी चंपारण से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 4, 2019, 3:46 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...