बिहार के इस स्कूल में जाति के आधार पर छात्रों को बांटा, अलग-अलग बैठाया

पूर्वी चम्पारण के इस विद्यालय में वर्ग 9 में 7 सेक्शन बनाए गए हैं ABCDEFG. रिकॉर्ड में पिछड़ी जाति,अत्यंत पिछड़ी,अनुसूचित जाति और सामान्य जाति, के अनुसार रजिस्टर को बनाया गया है. ऐसा ही वर्ग 10 के लिए भी किया गया है.

News18 Bihar
Updated: December 8, 2018, 5:54 PM IST
बिहार के इस स्कूल में जाति के आधार पर छात्रों को बांटा, अलग-अलग बैठाया
मोतिहारी के तेनुआ हाईस्कूल की छात्राएं
News18 Bihar
Updated: December 8, 2018, 5:54 PM IST
एक ओर जहां जातिगत भेदभाव को समाप्त करने के लिए स्कूलों में मध्याह्न भोजन जैसी योजना चल रही है. वहीं बिहार के एक सरकारी स्कूल में जाति को आधार बनाकर बच्चों को अलग-अलग बैठाया जा रहा है. इनके सेक्शन भी अलग कर दिए गए हैं. हालांकि स्कूल के कर्मचारियों ने इसके लिए सफाई पेश की है कि वह ऐसा रजिस्टर मेंटेन करने के लिए कर रहे हैं.

मामला पूर्वी चम्पारण के कल्याणपुर प्रखंड के तेनुआ उच्च विद्यालय का है. यहां वर्ग 9 में 7 सेक्शन बनाया गए हैं  ABCDEFG. सरकार के रिकॉर्ड में पिछड़ी जाति,अत्यंत पिछड़ी,अनुसूचित जाति और सामान्य जाति, इसी के अनुसार से रजिस्टर को बनाया गया है. ऐसा ही वर्ग 10 के लिए भी किया गया है.

ये भी पढ़ें-  पटना: नामी स्कूल के वॉशरूम में बच्चियों का बनाया जा रहा था वीडियो, जानिये क्या है मामला

सवाल ये है कि आखिर ऐसी क्या मजबूरी है कि जाति के आधार पर बच्चों को अलग-अलग क्लास में बिठाया जा रहा है. इसके लिए स्कूल प्रशासन सफाई पेश कर रहा है. उनके अनुसार सरकार की स्काइप ऑन ड्रेस साइकिल जातिगत सूची मांगी जाती है. ऐसा करने से सरकार को आंकड़े देने में सुविधा होती है. हालांकि स्कूल के प्राचार्य कमलेश कुमार ने इस पर कोई बात नहीं की.

ये भी पढ़ें-  एग्जिट पोल के नतीजों पर घमासान: BJP बोली हम जीतेंगे, कांग्रेस ने कहा होगा सूपड़ा साफ

जब इसकी जानकारी गांव के मुखिया को हुई तोउन्‍होंने व्यवस्था में सुधार करने की बाद कही. वहीं मामला संज्ञान में आते ही कल्याणपुर के बीडीओ ने स्कूल में पहुंचकर जांच की. उन्होंने स्कूल प्रशासन को इसे तीन दिनों में सुधार करने के लिए कहा है. साथ ही सुधार नहीं होने पर कारवाई करने का आदेश दिया.

रिपोर्ट - मुकेश सिन्हा
Loading...

ये भी पढ़ें-  बिहार के मंत्री बोले- नीतीश BJP के पास आए थे, न कि पार्टी उनके पास गई थी
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर