• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • 17 साल बाद पुलिस के हत्थे चढ़ा एके-47 से नरसंहार करने वाला कुख्यात अपराधी

17 साल बाद पुलिस के हत्थे चढ़ा एके-47 से नरसंहार करने वाला कुख्यात अपराधी

मामले की जानकारी देते एसपी

मामले की जानकारी देते एसपी

2001 में मोतिहारी सेन्ट्रल जेल से पेशी के लाने के क्रम में राकेश फरार हो गया था जिसके बाद से वो कई लोगों की हत्या कर चुका था. अभी हाल में मुजफ्फरपुर के पूर्व मेयर समीर कुमार हत्याकांड में भी पुलिस उसको तलाश रही थी

  • Share this:
    बिहार के पूर्वी चम्पारण पुलिस ने कई नरसंहारों के आरोपी कुख्यात राकेश सिंह को गिरफ्तार किया है. कुख्यात की गिरफ्तारी 17 साल के लंबे अंतराल के बाद हो सकी है. पुलिस ने राकेश को चकिया थाना इलाके से गिरफ्तार किया. राकेश की तलाश मुजफ्फरपुर में हुए पूर्व मेयर समीर कुमार हत्याकांड में भी थी.

    कुख्यात ने 2016 और 2017 में पकड़ीदयाल में हुए दो नरसंहार की वारदातों को अंजाम दिया था. राकेश ने पकड़ीदयाल के सिरहा गांव में 26 अगस्त 2016 की शाम एके 47 से अंधाधुंध गोलीबारी कर चार लोगों की हत्या कर दी थी  साथ ही 17 जनवरी 2017 को एक बार फिर एके-47 से पकड़ीदयाल नगर पंचायत के उपसभापति सहित तीन लोगों की सामूहिक हत्या कर दी थी.

    2001 में मोतिहारी सेन्ट्रल जेल से पेशी के लाने के क्रम में राकेश फरार हो गया था जिसके बाद से वो कई लोगों की हत्या कर चुका था. अभी हाल में मुजफ्फरपुर के पूर्व मेयर समीर कुमार हत्याकांड में भी पुलिस उसको तलाश रही थी जिसे चकियाथाना पुलिस ने गिरफ्तार किया.

    ये भी पढ़ें- पटना में लालू के करीबी राजद विधायक के ठिकानों पर इनकम टैक्स की रेड

    कुख्यात राकेश के भाई राजेश की हत्या नक्सलियों ने गला रेत कर कर दी थी और उसकी बहन के साथ दुराचार किया था जिसके प्रतिशोध में राकेश ने अपराध की दुनिया में कदम रखा था. पुलिस के मुताबिक राकेश ने पहली हत्या जमीन विवाद में अपने चाचा की ही की थी. राकेश की गिरफ्तारी को पुलिस बड़ी कामयाबी मान रही है.

    गिरफ्तारी पर एसपी ने कहा कि मुजफ्फरपुर पुलिस को राकेश की गिरफ्तारी की सूचना दी गयी है. राकेश से मुजफ्फरपुर पुलिस पूछताछ करने के लिए आने वाली है.

    रिपोर्ट- मुकेश सिन्हा

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज