अपना शहर चुनें

States

पैसे की लालच में मैकेनिक से शार्ट शूटर बन गया कमरूद्दीन, जेल से फरार होने के 19 साल बाद मुंबई से गिरफ्तारी

मामले की जानकारी देते मोतिहारी के एसपी
मामले की जानकारी देते मोतिहारी के एसपी

Criminal Arrested: कमरुद्दीन की गिरफ्तार बिहार की मोतिहारी पुलिस ने मुंबई पुलिस के सहयोग से की. 19 साल पहले 2002 में कोर्ट में पेशी के दौरान वो फरार हो गया था

  • Share this:
पूर्वी चम्पारण. बिहार की मोतिहारी पुलिस (Motihari Police) को बड़ी कामयाबी मिली है. पुलिस ने लूट, हत्या और रंगदारी के दो दर्जन से अधिक मामलों में पिछले 19 वर्षों से फरार कुख्यात (Wanter Criminal) कमरुद्दीन अंसारी को महाराष्ट्र के नासिक से गिरफ्तार किया है. कुख्यात कमरुद्दीन मियां मुम्बई के एक मासूम के अपहरण के मामले में जेल से हाल में ही बाहर आया था.

पुलिस के मुताबिक वो मोतिहारी सिविल कोर्ट से 2002 में पेशी के दौरान पुलिस को चकमा देकर मुम्बई भाग गया था जिसके बाद से पुलिस लगातार उसकी तलाश कर रही थी. पुलिस के अनुशंधान विभाग की टीम ने इसे मुम्बई पुलिस के सहयोग से गिरफ्तार कर लाया है. कमरूद्दीन पर पूर्वी चंपारण के मोतिहारी नगर के अलावे तुरकौलिया, अरेराज, हरसिद्धि थाना में लूट, हत्या, फिरौती के लिए अपहरण और रंगदारी के संगीन मामले दर्ज हैं.

कमरुद्दीन 2002 के पहले तेजी से व्यवसायी प्रतिष्ठानों पर रंगदारी के लिये बम फोड़कर दहशत मचाने के लिये माहिर माना जाता था. अपराध की दुनिया मे आने के पूर्व कमरुद्दीन फुटबाल का कुशल खिलाड़ी और एक कुशल मोटरसाइकिल मिस्त्री हुआ करता था, जिसे रुपये के लालच ने अपराध की दुनिया मे जाने को प्रेरित किया था. गोविंदगंज के पूर्व बाहुबली विधायक देवेंद्र दुबे के शागिर्दों की हत्या और व्यसायियो से रंगदारी के कारण वो सुर्खियों में आया था, इस दौरान इसने एक के बाद एक करीब दो दर्जन से अधिक अपराध की घटनाओं को अंजाम दिया था.



इस दौरान पकड़े जाने के बाद वो 19 साल पहले 2002 में पेशी के दौरान जेल से फरार हो गया था. एसपी नवीन चंद्र झा ने बताया कि वैज्ञानिक अनुसंधान टीम इसे मुम्बई पुलिस के सहयोग से गिरफ्तार कर लायी है और उसके खिलाफ आगे की कार्रवाई की जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज