Home /News /bihar /

मानसून की बेरुखी से धान किसान दुखी, 26 फीसदी कम हुई बुवाई

मानसून की बेरुखी से धान किसान दुखी, 26 फीसदी कम हुई बुवाई

जिले में खेती-बाड़ी में लगातार हो रहे नुकसान की वजह से किसानों का बुरा हाल है. वहीं मौसम की बेरुखी की वजह से जिले में अबतक महज 29 फीसदी ही रोपनी हो पाई है. जबकि गेहूं की फसल की बर्बादी देख चुके किसानों ने अब धान की खेती में अपनी पूरी ताकत झोंक दी है.

जिले में खेती-बाड़ी में लगातार हो रहे नुकसान की वजह से किसानों का बुरा हाल है. वहीं मौसम की बेरुखी की वजह से जिले में अबतक महज 29 फीसदी ही रोपनी हो पाई है. जबकि गेहूं की फसल की बर्बादी देख चुके किसानों ने अब धान की खेती में अपनी पूरी ताकत झोंक दी है.

जिले में खेती-बाड़ी में लगातार हो रहे नुकसान की वजह से किसानों का बुरा हाल है. वहीं मौसम की बेरुखी की वजह से जिले में अबतक महज 29 फीसदी ही रोपनी हो पाई है. जबकि गेहूं की फसल की बर्बादी देख चुके किसानों ने अब धान की खेती में अपनी पूरी ताकत झोंक दी है.

अधिक पढ़ें ...
    जिले में खेती-बाड़ी में लगातार हो रहे नुकसान की वजह से किसानों का बुरा हाल है. वहीं मौसम की बेरुखी की वजह से जिले में अबतक महज 29 फीसदी ही रोपनी हो पाई है. जबकि गेहूं की फसल की बर्बादी देख चुके किसानों ने अब धान की खेती में अपनी पूरी ताकत झोंक दी है.

    65 साल के धान किसान हरिलाल चौधरी इस उम्र में भी अपने खेतों में खड़े होकर मौसम की बेरुखी का मुकाबला कर रहे हैं. हरिलाल अपनी जमीन के कुछ टुकड़े में ही दोबारा खेती करने की कोशिश कर रहे है.

    किसान हरिलाल के मुताबिक पानी के अभाव में गेहूं की खेती पहले ही बर्बाद हो गई. इसके बाद इनकी आस धान पर थी तो इन्होंने खेती के लिए उधार और सूद पर पैसे भी ले लिए. अब मानसून में देरी और कम बारिश की वजह धान की खेती के भी अच्छे आसार नहीं दिख रहे.

    हरिलाल जिले के कोई अकेले किसान नहीं. जो मौसम की बेरुखी की मार झेल रहे हैं. कमोबेश गोपालगंज के सभी किसानों का यही हाल है. गेहूं की फसल की बर्बादी के बाद मौसम की मार की वजह से वे इस बार भी खुद को असहाय महसूस कर रहे है.

    कृषि विभाग की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक जिले में करीब 88 हजार हेक्टेयर में धान की खेती का लक्ष्य रखा गया है. कम बारिश की वजह से अबतक मात्र 22,880 हेक्टेयर भूमि में ही धान की रोपनी हो पाई है. यानी लक्ष्य का मात्र 26 फीसदी.

    Tags: गोपालगंज

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर