• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • सेल्फी मामले में शहाबुद्दीन पर एफआईआर तो जेल ट्रांसफर पर सुप्रीम कोर्ट में फैसला सुरक्षित

सेल्फी मामले में शहाबुद्दीन पर एफआईआर तो जेल ट्रांसफर पर सुप्रीम कोर्ट में फैसला सुरक्षित

  • Share this:
सीवान के पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन को सीवान कारा से दिल्ली की तिहाड़ जेल में शिफ्ट करने के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा है.

जेल ट्रांसफर को लेकर दाखिल याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में मंगलवार को सुनवाई हुई. कोर्ट ने सभी दलीलों को सुनने के बाद इस मामले पर फैसला सुरक्षित रखा है. बिहार के सीवान में हुए चर्चित डबल मर्डर और उसके गवाह हत्याकांड में तीन बेटों को गवां चुके व्यवसायी चंदा बाबू और सीवान के ही पत्रकार राजदेव रंजन की पत्नी आशा रंजन ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी देकर शहाबुद्दीन को सीवान से तिहाड़ जेल ट्रांसफर करने की गुहार लगाई थी.

कोर्ट ने मंगलवार को शहाबुद्दीन से जुड़े सभी मामलों में दोनों पक्षों की दलीलें सुनीं. कोर्ट ने यह जानना चाहा कि क्या शहाबुद्दीन के सीवान में रहने से कोई परेशानी है?
इससे पूर्व सीबीआइ के वकील ने शहाबुद्दीन को तिहाड़ शिफ्ट करने पर सहमति दे दी थी. दूसरी ओर

जेल से फोटो वायरल मामले में मो. शहाबुद्दीन के खिलाफ जेल अधीक्षक विधु भारद्वाज ने मुफ्फसिल थाने में प्राथमिकी दर्ज करवाई है. शहाबुद्दीन के साथ-साथ मामले में एक और के खिलाफ केस दर्ज हुआ है.

जानकारी के अनुसार इस मामले में जिसे अज्ञात बताया जा रहा है पुलिस उसका नाम छिपा रही है क्योंकि पुलिस उसे गिरफ्तार कर पूछताछ करना चाहती है. यह प्राथमिकी डीएम के जेल आइजी को जांच रिपोर्ट भेजे जाने के बाद की गई.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज