'किरकेट' में रूपहले पर्दे पर फिर से क्रिकेट खेलते नजर आएंगे कीर्ति आजाद

बिहार में क्रिकेट की दुर्दशा पर बन रही हिंदी फ़ीचर फ़िल्म ‘किरकेट’ में कीर्ति आजाद मुख्य भूमिका निभा रहे हैं.

Vijay Kumar Srivastava | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: April 4, 2016, 6:25 PM IST
'किरकेट' में रूपहले पर्दे पर फिर से क्रिकेट खेलते नजर आएंगे कीर्ति आजाद
बिहार में क्रिकेट की दुर्दशा पर बन रही हिंदी फ़ीचर फ़िल्म ‘किरकेट’ में कीर्ति आजाद मुख्य भूमिका निभा रहे हैं.
Vijay Kumar Srivastava | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: April 4, 2016, 6:25 PM IST
पूर्व अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर और दरभंगा से भाजपा सांसद कीर्ति आज़ाद क्रिकेट में अपनी नई पारी की शुरूआत करने जा रहे हैं. वे इस बार क्रिकेट की रियल पिच पर नहीं बल्कि रूपहले पर्दे की पिच पर छक्का लगाने की तैयारी में हैं.

कीर्ति बिहार में क्रिकेट की दुर्दशा पर बन रही हिंदी फ़ीचर फ़िल्म ‘किरकेट’ में मुख्य भूमिका निभा रहे हैं. इस फ़िल्म की शूटिंग दरभंगा में चल रही है. 1983 की विश्व कप क्रिकेट टूर्नामेंट विजेता भारतीय टीम के सदस्य, बीसीसीआई के चयनकर्ता रहे और एसोसिएशन ऑफ़ बिहार क्रिकेट के अध्यक्ष कीर्ति आज़ाद बिहार से लेकर दिल्ली की राजनीतिक पिच पर स्टार बनकर पहले ही उभर चुके हैं.

यह फिल्म धर्मा प्रोडक्शंस के बैनर तले बन रही है. इसकी शूटिंग फिलहाल दरभंगा के विभिन्न लोकेशन पर चल रही है, जहां कीर्ति अपने हिस्से की शूटिंग करने पहुंच रहे हैं.

फ़िल्म की कहानी एक टीवी पत्रकार के रिसर्च से शुरू होती है. फ़िल्म कीर्ति आज़ाद के इर्द-गिर्द घूमती है. इसमें साल 2000 में हुए बिहार के बंटवारे के बाद बिहार में क्रिकेट के दुर्दिन को दिखाया जाएगा. बिहार में क्रिकेट संघों की आपसी ज़ंग, क्रिकेट में राजनीतिक वर्चस्व, बीसीसीआई की भूमिका और भ्रष्टाचार को दिखाया जाएगा. फ़िल्म में नायक कीर्ति आज़ाद हैं और वे अपनी भूमिका खुद निभा रहे हैं. इसके साथ ही फ़िल्म में बिहार क्रिकेट से जुड़े नेताओं, अधिकारियों और अन्य लोगों के चरित्र भी गढ़े गए हैं. फ़िल्म में भारतीय क्रिकेट के खिलाड़ी बिशन सिंह बेदी, सुरेंदर खन्ना, अजय जडेजा, किरण मोरे भी अपने रोल खुद करते नजर आएंगे.

फ़िल्म की शूटिंग दरभंगा, पटना और दिल्ली में पूरी होगी. ये फ़िल्म फरवरी 2017 में राष्ट्रीय स्तर पर रिलीज़ होगी. इसकी पटकथा सोनू झा ने लिखी है. निर्माता आरके जालान और निर्देशक योगेंद्र सिंह हैं. फ़िल्म में सोनम छाबड़ा, विशाल तिवारी समेत कई जाने-पहचाने चेहरे भूमिका निभाते नज़र आएंगे.

‘किरकेट’ की कहानी बिहार से शुरू होकर दिल्ली तक जाती है. जानकारों का मानना है कि क्रिकेट में भ्रष्टाचार के मुद्दे पर अपनी ही पार्टी से आर-पार की लड़ाई लड़ रहे कीर्ति आज़ाद इस फ़िल्म के माध्यम से देश के लोगों तक अपनी आवाज़ प्रभावकारी ढंग से पहुंचाने की क़वायद में हैं.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर