होम /न्यूज /बिहार /

Bihar 10th Result: मैट्रिक परीक्षा में फेल होने पर छात्र ने खाया जहर, छात्रा हुई बेहोश; दोनों अस्‍पताल में भर्ती

Bihar 10th Result: मैट्रिक परीक्षा में फेल होने पर छात्र ने खाया जहर, छात्रा हुई बेहोश; दोनों अस्‍पताल में भर्ती

Munger News: मैट्रिक परीक्षा में फेल होने पर एक छात्र ने जहर खाकर जान देने की कोशिश की तो वहीं एक अन्‍य छात्रा बेहोश हो गई. बता दें कि फेल छात्र को पास होने का मौका दिया जाता है. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

Munger News: मैट्रिक परीक्षा में फेल होने पर एक छात्र ने जहर खाकर जान देने की कोशिश की तो वहीं एक अन्‍य छात्रा बेहोश हो गई. बता दें कि फेल छात्र को पास होने का मौका दिया जाता है. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

Bihar Matric Result 2022: बिहार मैट्रिक का परीक्षा परिणाम 31 मार्च को आ गया. बड़ी तादाद में छात्र-छात्राएं पास हुए हैं. वहीं, कई छात्र परीक्षा में फेल भी हो गए. मुंगेर में 10वीं की परीक्षा में फेल एक छात्र ने जहरीला पदार्थ खाकर जान देने की कोशिश की है. वहीं, एक अन्‍य छात्रा परीक्षा में असफल होने की सूचना पर बेहोश हो गईं. दोनों को अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है.

अधिक पढ़ें ...

मुंगेर. बिहार में मैट्रिक परीक्षा का परिणाम आ गया है. बड़ी तादाद में छात्र-छात्राओं ने बाजी मारी है. वहीं, कुछ छात्र फेल भी हो गए हैं. बिहार बोर्ड की 10वीं की परीक्षा (Bihar Matric Exam Result 2022) में असफल रहने वाले छात्रों को लेकर मुंगेर से दुखद खबर सामने आई है. मैट्रिक परीक्षा में फेल होने पर एक छात्र ने जहरीला पदार्थ खाकर खुदकुशी करने की कोशिश की है. वहीं, एक अन्‍य छात्रा परीक्षा परिणाम के बारे में जानकर बेहोश हो गईं. दोनों छात्रों को अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है. फिलहाल दोनों छात्रों का मुंगेर के सदर अस्‍पताल में इलाज चल रहा है. सुसाइड का प्रयास करने वाले छात्र के परिजन उनके इस कदम से सकते में हैं.

जानकारी के अनुसार, मुंगेर में मैट्रिक कि परीक्षा में फेल होने के कारण मयदरियापुर के एक छात्र जहरीला पदार्थ खा लिया. वहीं, 10वीं की परीक्षा में असफल होने पर शंकरपुर कि एक छात्रा बेहोश हो गई. छात्र-छात्रा के परिजनों ने आनन-फानन में दोनों को इलाज के लिए मुंगेर सदर अस्पताल में भर्ती कराया. मुफस्सिल थाना क्षेत्र के मयदरियापुर निवासी रविन्द्र मंडल के पुत्र अखिलेश कुमार मैट्रिक परीक्षा में फेल हो गए. इसकी जानकारी मिलने के बाद अखिलेश ने जहर खाकर जान देने की कोशिश की. समय रहते इस बात कि जानकारी अखिलेश के परिजनों को लग गई और उन्‍होंने अखिलेश को सदर अस्पताल में दाखिल कराया. समय पर इलाज मिलने के कारण अखिलेश कि जान बच गई. अखिलेश को हिन्दी विषय में सबसे कम नम्बर आए हैं.

BSEB 10th Result 2022 : बिहार बोर्ड 10वीं में 3 लाख से ज्यादा छात्र हुए हैं फेल, ऐसे हो सकते हैं पास, जानें प्रोसेस 

छात्रा हुई बेहोश
दूसरा मामला मुफस्सिल थाना क्षेत्र के शंकरपुर निवासी टोटो चालक पंकज कुमार यादव कि पुत्री कोमल कुमारी का है. कोमल को गणित विषय कम अंक मिला. इस वजह से वह मैट्रिक परीक्षा में फेल हो गई. असफल होने का दुख वह सहन नहीं कर पाई और बेहोश हो गई. परिजनों ने आनन फानन में उसे इलाज के लिए सदर अस्पताल में भरती कराया. अब डॉक्टरों ने उनकी हालत ठीक बताई है.

79.88 फीसदी छात्र हुए पास
बीएसईबी 10वीं के परिणाम में कुल उत्तीर्ण प्रतिशत 79.88 फीसदी रहा, जो पिछले साल की तुलना में थोड़ा अधिक है. इस बार कुल 16,11,099 छात्रों ने परीक्षा के लिए पंजीकरण कराया था. इस साल टॉपर रही रामायणी राय, जिन्होंने 487 अंकों के साथ पहली रैंक हासिल की है.

Tags: 10th Board result, Bihar board results

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर