Bihar Assembly Election: मुंगेर सीट पर लगी राजनीतिक प्रतिष्ठा, BJP-RJD में सीधा मुकाबला

मुंगेर सीट पर लगी राजनीतिक प्रतिष्ठा (file photo)
मुंगेर सीट पर लगी राजनीतिक प्रतिष्ठा (file photo)

मुंगेर (Munger) का किला ऐतिहासिक धरोहरों (Fort) के लिए जाना जाता है. बंगाल के अंतिम नवाब मीरकासिम का प्रसिद्ध किला यहीं पर स्थित है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 24, 2020, 12:26 PM IST
  • Share this:
मुंगेर. बिहार में विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections 2020) के मद्देनजर सियासी बिसात बिछ चुकी है. बिहार की मुंगेर विधानसभा सीट राज्य की अहम विधानसभा सीटों में से एक है. मुंगेर में अब आरजेडी (RJD) और बीजेपी (BJP) के बीच सीधा मुकाबला होता है. दोनों ही पार्टियों के बीच यहां पर कड़ी टक्कर देखने को मिलती है. 2015 के चुनाव में आरजेडी के विजय कुमार ने जीत हासिल की थी. उन्होंने बीजेपी के प्रणव कुमार को मात दी थी.

राजनीतिक इतिहास

बता दें कि मुंगेर विधानसभा सीट 1957 में अस्तित्व में आई. यहां पर हुए पहले चुनाव में कांग्रेस ने जीत हासिल की. कांग्रेस अगले चुनाव में भी जीत को कायम रखती है. लेकिन 1967 के चुनाव में उसे हार का सामना करना पड़ा. 1967 और 1969 के चुनाव में हार मिलने के बाद कांग्रेस को 1972 में जीत मिली. लेकिन 1977 के चुनाव में कांग्रेस को एक बार फिर हार का सामना करना पड़ा. 1972 में मिली जीत कांग्रेस को मुंगेर में मिली आखिरी जीत थी.



राज्य की मुख्य पार्टी आरजेडी को यहां पर पहली बार जीत 2000 में मिलती है. इसके बाद अगले ही चुनाव में ही उसे हार मिली और जेडीयू ने इस सीट पर कब्जा किया. जेडीयू को 2005 के उपचुनाव में भी जीत मिली, लेकिन 2009 के उपचुनाव में उसे आरजेडी के हाथों हार का सामना करना पड़ा.पिछले दो चुनावों पर नजर डालें तो मुंगेर में 2010 में जेडीयू के अनंत कुमार ने आरजेडी उम्मीदवार को मात दी, लेकिन अगले ही चुनाव में आरजेडी हार का बदला लेती है. और विजय कुमार विधायक चुने जाते हैं.
ऐतिहासिक धरोहर है जिले की पहचान

मुंगेर विधानसभा सीट बिहार के मुंगेर जिले में आती है. मुंगेर का किला ऐतिहासिक धरोहरों के लिए जाना जाता है. बंगाल के अंतिम नवाब मीरकासिम का प्रसिद्ध किला यहीं पर स्थित है. यह किला गंगा नदी के किनारे बना हुआ है. 2011 की जनगणना के अनुसार, मुंगेर की कुल जनसंख्या 456751 है. इसमें से 52.22% ग्रामीण और 47.78% शहरी आबादी है. अनुसूचित जाति (एससी) और अनुसूचित जनजाति (एसटी) का अनुपात कुल जनसंख्या से क्रमशः 9.63 और 0.3 है.

2015 का रुझान

2015 के विधानसभा चुनाव में मुंगेर में 311957 मतदाता थे. इसमें से 54.44 फीसदी पुरुष और 45.44 महिला वोटर्स थीं. मुंगेर में 169256 लोगों ने वोटिंग की थी. यहां पर 54 फीसदी मतदान हुआ था. इस चुनाव में आरजेडी के विजय कुमार ने बीजेपी के प्रणव कुमार को मात दी थी. उन्होंने 4 हजार से ज्यादा वोटों से जीत हासिल की थी. विजय कुमार को 77216 (45.63 फीसदी) और प्रणव कुमार को 72851 (43.05 फीसदी) वोट मिले थे.

जानिए कौन है RJD विधायक विजय कुमार

3 मार्च 1952 को जन्मे विजय कुमार की शैक्षणिक योग्यता एलएलबी है. उन्होंने 1974 में छात्र आंदोलन से राजनीति में एंट्री की. वह 2015 में चुनाव जीतकर पहली बार विधानसभा पहुंचे. इससे पहले 1998 का चुनाव जीतकर वह पहली बार सांसद बने थे. विजय कुमार परिवहन एवं पर्यटन विभाग के स्थायी समिति के सदस्य रह चुके हैं. वह कई वर्षों तक आरजेडी के जिलाध्यक्ष भी रह चुके हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज