COVID-19: बिहार का दूसरा हॉटस्पॉट बना जमालपुर, ड्रोन से हो रही निगरानी

ये तकनीक पहले से ही कई राज्यों में लागू है
ये तकनीक पहले से ही कई राज्यों में लागू है

बिहार (Bihar) के मुंगेर (Munger) जिले का जमालपुर (Jamalpur) प्रदेश का दूसरा बड़ा हॉट स्पॉट बन गया है. इसके बाद प्रशासन ड्रोन से कई इलाकों की निगरानी कर रहा है.

  • Share this:
मुंगेर. बिहार (Bihar) के मुंगेर (Munger) जिले का जमालपुर (Jamalpur) प्रदेश का दूसरा बड़ा हॉट स्पॉट बन गया है. इसके बाद प्रशासन ड्रोन से कई इलाकों की निगरानी कर रहा है. बता दें, यहां पिछले तीन दिनों के अंदर 10 नए कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) मरीज मिले हैं. इसके बाद सतर्कता बरतते हुए इस तरह का कदम उठाया गया है. जिला प्रशासन ने कोरोना बंदी को सफल बनाने के लिए इलाको में ड्रोन का पहरा लगा दिया है. वही, जिले की एसपी ने इसे सफल बनाने के लिए पुलिस के हर तरह से तैयार होने की बात कही है. दरअसल, मुंगेर जिला हॉटस्पॉट के दूसरे पायदान पर है. इसके बाद जिला स्वास्थ प्रशासन से लेकर जिला पुलिस प्रशासन के भी कान खड़े हो गये हैं.

ड्रोन कैमरों से हो रही निगरानी
मुंगेर पुलिस ने एसपी के नेतृत्व में जमालपुर में ड्रोन कैमरे से निगरानी शुरू कराई. बता दें, यहां तीन दिनों के अंदर एक ही परिवार के कई सदस्यों के कोरोना संक्रमित होने के कारण इस तरह का कदम उठाया गया है. साथ ही ड्रोन कैमरे से इलाके में चल रहे सेनेटाइजेशन के काम की मॉनिटरिंग की जा रही है.
लॉकडाउन को लागू करवाना पुलिस की जिम्मेवारी
एसपी लिपि सिंह ने बताया की एक ही जगह इतने सारे कोरोना पॉजिटिव का मिला परेशानी का सबब बनता जा रहा है. महामारी के प्रसार को बढ़ने से रोकने के लिए बंदी का सौ प्रतिशत पालन करवाना पुलिस की जिम्मेवारी है. एसपी के अनुसार, प्रशानिक स्तर पर जमालपुर को पूरी तरह सील कर दिया गया है. साथ ही एसपी ने ये भी कहा की पुलिस कोरोना बंदी को सफल बनाने के लिए हर तरह तैयार है. एसपी ने आम लोगों से अपने घरो में बंद रहने की अपील की है. एसपी ने कहा कि जिला पुलिस जरूरी मदद आम लोगों तक पहुंचाएगी.



प्रशासन तैयार कर रहा संदिग्धों की लिस्ट
गौरतलब है कि जमालपुर में 10 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं. उसके बाद इन संक्रमित मरीजों के संपर्क में आने वाले 46 संदिग्धों को क्वरंटाइन किया गया है. इसके अलावा संदिग्धों का सैम्पल जांच के लिए भेजा गया है. जिला प्रशासन इनके संपर्क में आये अन्य लोगों की लिस्ट बनाने में जुटा है.

 

ये भी पढ़ें:

मुजफ्फरपुर: विदेश से लौटे 320 लोगों की 228 गांवों में हो रही तलाश, सर्वे शुरू
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज