Bihar Election 2020: जमालपुर विधानसभा सीट पर 'विकास' सबसे बड़ा मुद्दा, राजनीति गर्म

जमालपुर विधानसभा सीट पर 'विकास' सबसे बड़ा मुद्दा (file photo)
जमालपुर विधानसभा सीट पर 'विकास' सबसे बड़ा मुद्दा (file photo)

एशिया का पहला रेल इंजन कारखाना (Railway Locomotive Factory) यहीं खुला लेकिन इस क्षेत्र का औद्योगिक विकास नहीं हो पाया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 24, 2020, 1:06 PM IST
  • Share this:
जमालपुर. बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव (Assembly elections 2020) के लिए भले ही तारीखों का एलान अभी नहीं हुआ हो लेकिन पूरे प्रदेश में चुनावी सरगर्मियां तेज हो गई हैं. बीजेपी, जदयू और राजद सहित सभी दल चुनावी मैदान में उतर चुके हैं. कोई जनता तक पहुंच बनाने के लिए वर्चुअल रैली कर रहा है तो कोई सोशल मीडिया पर कम्पेन चलाकर हवा बनाने की कोशिश में जुटा हुआ है. वहीं, बात यदि मुंगेर जिले के जमालपुर विधानसभा क्षेत्र की करे तो हर चुनाव में विकास ही मुद्दा बनकर उठता रहा है. आजादी के बाद से जमालपुर नगर परिषद क्षेत्र में शुद्ध पेयजल की व्यवस्था शुरू नहीं हो पायी है. जमालपुर विधानसभा का प्रतिनिधित्व करने वाले जदयू के शैलेश कुमार को राजनीति विरासत में मिली है.

रोजगार और विकास बड़ा मुद्दा

बता दें कि एशिया का पहला रेल इंजन कारखाना यहीं खुला लेकिन इस क्षेत्र का औद्योगिक विकास नहीं हो पाया. रोजगार के साधन नहीं होने से युवा वर्ग परेशान है. स्कूलों में शिक्षकों का अभाव बना हुआ है. विकास के साथ हायर एजुकेशन और रोजगार यहां का बड़ा मुद्दा है.



राजनीतिक इतिहास
2008 में परिसीमन के बाद जमालपुर और खाडिया सीट अपने नए अस्तित्व जमालपुर-खाडिया के रूप में आया. यह क्षेत्र भी पूरी तरह से शहरी क्षेत्र में आता है. भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के लिए यह बेहद खास सीट थी क्योंकि 2012 के विधानसभा चुनाव में उसके उम्मीदवार भूषण भट ने 6,331 मतों के अंतर से जीत हासिल की थी. भूषण को 48,058 वोट मिले जबकि उनके करीबी प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस के समीरखान सिपाई को 41,727 वोट मिले थे.

 MLA शैलेश कुमार का राजनीतिक सफर

1995 में समता पार्टी से राजनीतिक सफर शुरू करने वाले शैलेश कुमार ने दूसरी बार मंत्री पद की शपथ ली. शैलेश कुमार ने पहली बार 20 नवंबर 2015 को मंत्री पद की शपथ ली थी. जमालपुर विधानसभा का प्रतिनिधित्व करने वाले जदयू के शैलेश कुमार को राजनीति विरासत में मिली है. उनके पिता स्व़ सुरेश कुमार सिंह भी विधायक थे. बरियारपुर के रहने वाले शैलेश कुमार का जन्म 25-12-1963 को हुआ था. एमए की शिक्षा के बाद उन्होंने राजनीति में कदम रखा. 2005 में वह पहली बार चुनाव जीते.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज