जानें कौन हैं वह महिला अफसर जिनपर लग रहा मुंगेर में मूर्ति विसर्जन के दौरान गोली चलवाने का आरोप

आरोप लग रहा है कि मुंगेर में प्रतिमा विसर्जन के दौरान लाठीचार्ज का आदेश एसपी लिपि सिंह ने दिया था.
आरोप लग रहा है कि मुंगेर में प्रतिमा विसर्जन के दौरान लाठीचार्ज का आदेश एसपी लिपि सिंह ने दिया था.

मुंगेर की वर्तमान एसपी लिपि सिंह (Munger SP Lipi Singh) पिछले साल उस समय चर्चा में आई थीं, जब उन्होंने मोकामा के बाहुबली विधायक अनंत सिंह (Anant Singh) को गिरफ्तार किया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 28, 2020, 12:17 PM IST
  • Share this:
पटना/मुंगेर. बिहार के मुंगेर में दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के दौरान एक युवक की मौत के बाद से बवाल मचा हुआ है. चैंबर ऑफ कॉमर्स ने मुंगेर में दुकानें बंद करने का ऐलान किया है. लोगों में गुस्सा है और सियासत भी गरम है. इस बीच, एक वीडियो सामने आया है, जिसमें लोग मुंगेर की पुलिस अधीक्षक लिपि सिंह (Munger SP Lipi Singh) के इशारे पर फायरिंग होने का आरोप लगा रहे हैं. दरअसल, इस घटना से जुड़ा एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें एक व्यक्ति मामले के संबंध में बता रहा है कि पुलिसवालों ने घटना की जानकारी किसी मैडम को दी थी. वह शख्‍स बता रहा है कि वह शायद जिले की एसपी होंगी.

वीडियो में ये व्यक्ति आगे कहते हैं कि फिर उस तरफ से शायद पुलिसकर्मियों को दंडात्मक कार्रवाई को आगे बढ़ाने का निर्देश मिला और फिर पुलिस ने हवाई फायरिंग की. इसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई. बता दें कि यह वीडियो RJD नेता अपूर्व यादव शेयर की है. हालांकि, न्यूज 18 इस वीडियो की सच्चाई की पुष्टि नहीं करता है.


बता दें कि मुंगेर की वर्तमान पुलिस अधीक्षक लिपि सिंह हैं. उनके पिता एवं जदयू नेता आरसीपी सिंह हैं. राज्यसभा सांसद आरसीपी सिंह को सीएम नीतीश कुमार का खास माना जाता है. लिपि सिंह हमेशा अपने कड़क मिजाज को लेकर चर्चा में रहती हैं और अक्सर लोग उन्‍हें 'लेडी सिंघम' नाम से भी संबोधित करते हैं.



गौरतलब है कि लिपि सिंह पिछले साल उस समय और अधिक चर्चा में आई थीं, जब उन्होंने मोकामा के बाहुबली विधायक अनंत सिंह के खिलाफ कार्रवाई की और उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था. वहीं, उनके पति सुहर्ष भगत भी आईएएस हैं और फिलहाल बांका के डीएम हैं.

ये है मामला
बता दें कि विधानसभा चुनाव को देखते हुए प्रशासन ने 26 अक्तूबर की शाम तक मूर्ति विसर्जन का आदेश दिया था. पुलिस ने बताया कि मुंगेर में पंडित दीन दयाल चौक के पास शंकरपुर के मूर्ति विसर्जन के लिए प्रशासन ने आदेश दिया था. इसे लेकर पुलिस और स्थानीय लोगों में कहासुनी हो गई. इतने में किसी ने फायरिंग कर दी.

फायरिंग में युवक की मौत
पुलिस के मुताबिक, गोली लगने से 18 वर्षीय अनुराग कुमार ने मौके पर ही दम तोड़ दिया. फायरिंग में पांच अन्य लोग भी घायल हुए, जिन्हें इलाज के लिए मुंगेर के सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया. वहीं, स्थानीय लोगों का आरोप है कि पुलिस की फायरिंग में युवक की मौत हुई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज