होम /न्यूज /बिहार /6 साल पहले शुरू की थी खेती अब मशरूम लेडी के नाम से मशहूर बिहार की बेटी को राष्ट्रपति के हाथों मिला सम्मान

6 साल पहले शुरू की थी खेती अब मशरूम लेडी के नाम से मशहूर बिहार की बेटी को राष्ट्रपति के हाथों मिला सम्मान

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के हाथों सम्मान लेतीं मुंगेर की वीणा देवी

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के हाथों सम्मान लेतीं मुंगेर की वीणा देवी

गरीब परिवार की ये महिला पूर्व में सरपंच भी रह चुकी हैं और उनकी पहचान पंचायत में जैविक कृषि को बढ़ावा देने के लिए होती है

    मुंगेर. रविवार को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस (Women Day) के मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ramnath Kovind) ने महिला सशक्तिकरण और समाज में उल्लेखनीय योगदान करने वाली महिलाओं को सम्मानित किया. राष्ट्रपति के हाथों सम्मान पाने वाली महिलाओं में बिहार के मुंगेर (Munger) से भी एक महिला शामिल थी. जिले के हवेली खड़गपुर अनुमडंल क्षेत्र के टेटिया बंबर प्रखंड क्षेत्र के तिलकारी गांव निवासी वीणा देवी को मशरूम की खेती एवं बेहतर उत्पादन तथा जैविक खेती के लिए किए गए कार्यों के लेकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के हाथों पुरस्कार मिला.

    जैविक खेती को देती हैं बढ़ावा

    उनके पुरस्कार मिलने से प्रखंड क्षेत्र में खुशी की लहर दौड़ गई. गरीब परिवार की ये महिला पूर्व में सरपंच भी रह चुकी हैं और उनकी पहचान पंचायत में जैविक कृषि को बढ़ावा देने के लिए होती है. छह वर्ष पूर्व वीणा देवी मुंगेर जिला में आत्मा से जुड़ीं और आत्मा द्वारा उन्हें  ट्रेनिंग करने के लिए पुणा भेजा गया जिसके बाद वो कृषि विज्ञान केंद्र से जुड़ी और कई जगहों से ट्रेनिंग ली.

    मशरूम लेडी के नाम से हैं मशहूर

    बदलते समय में वीणा देवी ने मशरूम की खेती को अपना हथियार बनाया और गरीबी की रेखा से धीरे-धीरे वो बाहर आने लगीं. अपने चार बच्चों में से बड़े पुत्र हिमांशु कुमार को वीणा ने इंजीनियरिंग की पढ़ाई कराई साथ ही तीन अन्य को भी पढ़ाई करवा रही हैं. वीणा देवी की सास अपनी बहू की  सफलता पर भावुक हो गईं और कहा कि मेरी बहू ने गांव ही नहीं बल्कि देश के स्तर पर हम लोगों का सम्मान बढ़ाया है.

    गांव में दौड़ी खुशी की लहर

    राष्ट्रपति के हाथों सम्मान पाने वाली वीणा देवी ने कहा कि आज मुझे भारत के राष्टपति द्वारा नारी शक्ति पुरस्कार मिला है. उन्होंने सभी महिलाओं को संदेश दिया कि छोटा से बड़ा आदमी ही बनता है. मुंगेर से आने वाली वीणा देवी को इससे पहले 2014 में मुख्यमंत्री के हाथों सम्मान प्राप्त हुआ था. इसके बाद वो 2018 में महिला किसान अवार्ड से नवाजी गईं. 03 फरवरी 2019 को कृषि मंत्री द्वारा किसान अभिनव पुरस्कार से भी वो सम्मानित हो चुकी हैं. वीणा देवी आज  विभिन्न जिलों में जैविक खेती एवं मशरूम उत्पादन के लिए महिलाओं को प्रशिक्षण दे रही हैं.

    रिपोर्ट- अरूण कुमार शर्मा

    ये भी पढ़ें- बिहार: आर्केस्ट्रा संचालक की हत्या कर नर्तकी को किया किडनैप

    ये भी पढ़ें- कांग्रेस ने तेजस्वी यादव को याद दिलाया वादा, RJD बोली- जो देना था दे दिया

    Tags: Bihar News, International Women Day, Munger news, Ramnath kovind, Women Achiever

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें