मुंगेर: लापता बेटे की बरामदगी के लिए अनिश्चितकालीन अनशन बैठी मां, हत्या की आशंका

लापता बेटे की तलाश के लिए मुंगेर में अनशन पर बैठी मां
लापता बेटे की तलाश के लिए मुंगेर में अनशन पर बैठी मां

दो नवंबर को लड़की ने फोन पर शादी की बात कहकर कर ज्ञानी कुमार को कटिहार बुलाया. इसके बाद से ही उसका कोई भी पता नहीं चल रहा है.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: December 23, 2018, 12:44 PM IST
  • Share this:
पुलिस किसी की नहीं सुनती... ये बात एक बार फिर साबित हो रही है. मुंगेर में पुलिस के इसी व्यवहार से दुखी एक मां अनिश्चितकालीन अनशन पर बैठ गई है. वह गुहार लगा रही है कि बीते 2 नवंबर से लापता उनके बेटे को पुलिस ढूंढकर लाए.

दरअसल बरियारपुर थाना क्षेत्र के गांधीपुर निवासी रविंद्र प्रसाद सिंह का पुत्र ज्ञानी कुमार दो महीने से लापता है, लेकिन पुलिस उसका पता नहीं लगा पाई है. परिजनों का कहना है कि फायर ब्रिगेड विभाग, बरियारपुर में ड्राइवर पद रहे ज्ञानी की हत्या कर दी गई है. आरोप पड़ोस में रहने वाले मुन्ना सिंह पर लगाया जा रहा है.

ये भी पढ़ें-  RJD के शासनकाल में अपराधियों को मिलता था संरक्षण, अब होती है कार्रवाई: नित्यानंद राय



मामला प्रेम प्रसंग से जुड़ा बताया जा रहा है. ज्ञानी कुमार का पड़ोस में रहने वाली एक लड़की से प्रेम प्रसंग चल रहा था. लड़की ज्ञानी के घर कई बार शादी करने की बात को लेकर आई भी थी. हालांकि ज्ञानी के परिजनों ने लड़की को समझा-बुझाकर वापस भेज दिया था.
बताया जा रहा है कि बीते दो नवंबर को लड़की ने फोन पर शादी की बात कहकर कर ज्ञानी को कटिहार बुलाया. जिसके बाद ज्ञानी ने घर में मोबाइल ठीक कराने भागलपुर जाने की बात कहकर चला गया. इसके बाद से ही उसका कोई भी पता नहीं चल रहा है. उसी समय से लड़की का भी पता नहीं चल पा रहा है.

ये भी पढ़ें-  तेजस्वी यादव बोले- अपराधियों के आगे नतमस्तक है नीतीश सरकार

इस बाबत परिजनों ने चार नवंबर को बरियारपुर थाना में ज्ञानी के अपहरण का मामला दर्ज करवा दिया. इसमें लड़की के परिवारवाले समेत आठ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया. लेकिन पुलिस ने अब तक कोई कार्रवाई नहीं की है. उधर ज्ञानी के परिजनों ने अपने बेटे हत्या की आशंका जताई है और पड़ोसी पर शव गयाब करने का आरोप लगाया है.

परिजनों ने ज्ञानी की बरामदगी को लेकर ग्रामीण कार्य मंत्री शैलेष कुमार सहित डीआईजी एसपी सहित कई पुलिस पदाधिकारियों के पास गुहार लगायी है, लेकिन अभी तक उसकी बरामदगी नहीं हुई. परिजनों की मांग है पुलिस जब तक ज्ञानी का बरामदगी नहीं करती है तब उनका अनशन जारी रहेगा.

रिपोर्ट - अरुण कुमार शर्मा

ये भी पढ़ें- सुर्खियां: आज से पॉलीथिन बैन, NDA सीट बंटवारे का ऐलान होगा और प्रदेश में अपराधी बेलगाम
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज