मुंगेर में मिनी गन की 8 फैक्ट्रियों का खुलासा, पहाड़ पर चलता था अवैध कारोबार

एसपी डॉक्टर गौरव मंगला ने बताया कि मौका-ए-वारदात से गिरफ्तार किए गए अपराधियों के खिलाफ नया रामनगर थाना में केस दर्ज कर लिया गया है और अनुसंधान जारी है

News18 Bihar
Updated: August 14, 2019, 2:09 PM IST
मुंगेर में मिनी गन की 8 फैक्ट्रियों का खुलासा, पहाड़ पर चलता था अवैध कारोबार
मामले की जानकारी देते मुंगेर के एसपी
News18 Bihar
Updated: August 14, 2019, 2:09 PM IST
बिहार की मुंगेर (Munger) पुलिस को हथियार तस्करों (Arms Smugglers) के खिलाफ बड़ी कामयाबी मिली है. पुलिस ने छापेमारी (Raid) कर मिनी गन की आठ फैक्ट्रियों (Mini Gun Factory) का उद्भेदन किया है. इस दौरान पुलिस ने भारी मात्रा में हथियार (Arms) बनाने के उपक्रम और दर्जनों जिन्दा कारतूस (Bullets) से साथ-साथ सात हथियार निर्माताओं को गिरफ्तार किया है.

गिरफ्तार हथियार निर्माता पुलिस से बचने के लिए पहाड़ पर अवैध हथियार का निर्माण करते थे. पुलिस कप्तान के मुताबिक गुप्त सूचना के आधार पर एएसपी सदर हरिशंकर कुमार के नेतृत्व में एसआईटी की टीम द्वारा नया रामनगर क्षेत्र के काली पहाड़ सहित अन्य पहाड़ी इलाकों में छापेमारी की गई.

इस दौरान 8 मिनी गन फैक्ट्री का उद्भेदन किया गया. पुलिस ने रेड के दौरान 8 बेस मशीन, 4 अर्धनिर्मित पिस्टल, मैगजीन सहित दर्जनों गोलियां एवं हथियार निर्माण में प्रयुक्त होने वाले उपकरण बरामद किया. छापेमारी अभियान में कासिम बाजार जमालपुर थाना सफियाबाद ओपी ,रामनगर थाना क्षेत्र के पुलिस शामिल थी इस क्रम में पुलिस ने सात आरोपियों को गिरफ्तार किया जिसमें से मौके पर से गिरफ्तार अपराधी कासिम बाजार थाना क्षेत्र के तथा एक जमालपुर थाना क्षेत्र का है.

जमालपुर थाना क्षेत्र का प्रभाकर कुमार पूर्व में आर्म्स एक्ट के मामले में जेल जा चुका है जबकि सुशील कुमार बलराम कुमार पिंटू कुमार साह सभी क्षेत्र के कासिम बजार थाना क्षेत्र के मकससपुर का रहने वाला है. एसपी डॉक्टर गौरव मंगला ने बताया कि मौका-ए-वारदात से गिरफ्तार किए गए अपराधियों के खिलाफ नया रामनगर थाना में केस दर्ज कर लिया गया है और अनुसंधान जारी है. उन्होंने कहा की गिरफ्तार सभी पहाड़ के जंगलों में अवैध हथियार के निर्माण के साथ सप्लाई भी करते थे.

रिपोर्ट- अरूण शर्मा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मुंगेर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 14, 2019, 2:08 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...