मुंगेर AK-47 केस: हथियार सप्लायरों के खिलाफ पुलिस को मिला गिरफ्तारी का वारंट

AK-47 केस में अब तक 31 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है और 20 अब भी फरार है. फरार चल रहे अन्य आरोपियों के खिलाफ भी गिरफ्तारी की कार्रवाई की जा रही है.
AK-47 केस में अब तक 31 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है और 20 अब भी फरार है. फरार चल रहे अन्य आरोपियों के खिलाफ भी गिरफ्तारी की कार्रवाई की जा रही है.

AK-47 केस में अब तक 31 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है और 20 अब भी फरार है. फरार चल रहे अन्य आरोपियों के खिलाफ भी गिरफ्तारी की कार्रवाई की जा रही है.

  • Share this:
AK-47 रायफल बरामदगी के मामले में फरार 20 से अधिक अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए मुंगेर पुलिस ने तैयारी कर ली है. एसपी के निर्देश पर औरंगाबाद के रहने वाले चंद्रशेखर आजाद और राहुल सिंह के खिलाफ कोर्ट से वारंट भी ले लिया गया है. इन दोनों पर 10 एके-47 रायफल सप्लाई करने का आरोप है. मिली जानकारी के अनुसार अन्य फरार अभियुक्तों के खिलाफ भी पुलिस जल्दी ही बड़ी कार्रवाई करेगी.

एसपी बाबू राम ने बताया कि AK-47 मामले में अब तक 31 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है और 20 अब भी फरार है. उन्होंने कहा कि फरार चल रहे आरोपियों के विरुद्ध भी गिरफ्तारी की कार्रवाई की जा रही है. बता दें कि औरंगाबाद दाउदनगर निवासी चंद्रशेखर आजाद और राहुल सिंह पर AK-47 की खरीदारी करने के साथ सप्लाई करने का भी आरोप है. इस मामले में स्थानीय न्यायालय ने गिरफ्तारी के लिए वारंट भी जारी कर दिया है.

दोनों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने कई ठिकानों पर छापेमारी भी की है. बताया जा रहा है कि अगर पुलिस उन्हें जल्दी ही गिरफ्तार करने में कामयाब नहीं होती है तो कुर्की-जब्ती के लिए कोर्ट से आदेश लेगी.



ये भी पढ़ें- मुंगेर: एक और AK-47 रायफल बरामद, तीन आरोपी गिरफ्तार
एसपी ने बताया कि AK-47 मामले में पटना से गिरफ्तार मुख्य सप्लायर मो. मंजर उर्फ मनजीत ने चंद्रशेखर आजाद को 8 और राहुल सिंह को दो AK-47 देने की बात बताई थी. एसपी ने  बताया की  चंद्रशेखर   पुराना हथियार तस्कर हैऔर कई कांडों में इसकी संलिप्तता है.

वहीं औरंगाबाद और राज्य के कई जिलों में राहुल सिंह की अनेकों लाइसेंसी हथियार की दुकाने हैं. एसपी ने कहा कि राहुल सिंह पर नक्सलियों और अपराधियों को अवैध तरिके से हथियार सप्लाय करने का भी आरोप है. इसकी जानकारी सामने आने के बाद पुलिस ने राहुल सिंह की लाइसेंसी दुकानों को सील कर दिया है.

ये भी पढ़ें-
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज