मुंगेर: हथियारों के जखीरे के साथ पुलिस के हत्थे चढ़े सात अपराधी, JDU नेता का हत्यारा भी गिरफ्त में
Munger News in Hindi

मुंगेर: हथियारों के जखीरे के साथ पुलिस के हत्थे चढ़े सात अपराधी, JDU नेता का हत्यारा भी गिरफ्त में
मामले की जानकारी देतीं मुंगेर की एसपी

मुंगेर से गिरफ्तार अपराधियों में सत्यम यादव, सूरज यादव और राणा यादव उर्फ राणा बॉस का अपराधिक इतिहास रहा है. सूरज यादव और राणा यादव की तलाश जमालपुर थाना क्षेत्र में हुए हत्या के दो मामले में भी चल रही थी

  • Share this:
मुंगेर. बिहार की मुंगेर पुलिस (Munger Police) को अपराधियों के खिलाफ बड़ी कामयाबी मिली है. पुलिस अधीक्षक लिपि सिंह के निर्देश पर की गई कार्रवाई के दौरान सात अपराधियों को गिरफ्तार (Criminals Arrest) किया गया है. पुलिस को अपराधियों के पास से भारी मात्रा में हथियार और कारतूस भी मिले हैं. गिरफ्तार अपराधियों में से कई अपराधियों का लंबा आपराधिक इतिहास रहा है तथा कई घटनाओं में इन्होंने अपनी संलिप्तता स्वीकार की है.

 गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने की छापेमारी

मुंगेर पुलिस अधीक्षक लिपि सिंह ने बताया कि सफियासराय ओपी अंतर्गत सिंघिया बहियार इलाके में अपराधियों के जमावड़े की सूचना मिली थी. गांव के बाहर सिंघिया बहियार में बैठे अपराधी वारदात को अंजाम देने के लिए जमा हुए थे. सूचना के बाद पुलिस अधीक्षक द्वारा अपर पुलिस अधीक्षक हरिशंकर कुमार के नेतृत्व में एक दल गठित कर छापामारी की गई. इस दल में एसआईओयू प्रभारी विनय कुमार सिंह, कासिम बाजार थानाध्यक्ष शैलेश कुमार, जमालपुर थानाध्यक्ष रंजन कुमार, धरहरा थानाध्यक्ष रोहित कुमार सिंह, साफियासराय ओपी अध्यक्ष गौरव कुमार और जिला आसूचना इकाई के जवान शामिल थे.



गिरफ्तार अपराधियों की निशानदेही पर पुलिस को मिली कामयाबी
सिंघिया बहियार इलाके में तीन तरफ से घेराबंदी कर छापामारी की गई. इसी दौरान बांध पर बैठे अपराधी पुलिस को देखकर भागने लगे. आधे घंटे की मशक्कत के बाद मौके पर से पांच अपराधियों को गिरफ्तार किया गया जबकि कुछ अन्य भाग निकले. सिंघिया बहियार से सत्यम यादव, आजाद यादव, राणा यादव उर्फ राणा बॉस,  सूरज यादव और अमरेश यादव को गिरफ्तार किया गया. उनके पास से चार देशी पिस्तौल और 14 जिंदा गोलियां बरामद की गई. गिरफ्तार अपराधियों से पुलिस को जानकारी मिली कि कुछ अन्य अपराधी गांव की तरफ भागे हैं. भाग रहे अपराधियों में से एक शशांक कुमार यादव को पुलिस ने गिरफ्तार किया. गिरफ्तार अपराधियों की निशानदेही पर पूरबसराय ओपी और मुफस्सिल थाना क्षेत्र में भी छापामारी की गई.

आर्म्स सप्लायर भी गिरफ्तार

गिरफ्तार अपराधियों ने बताया कि हथियार एवं गोलियों की आपूर्ति का काम मुफस्सिल थाना क्षेत्र निवासी बंटी यादव करता है. इसके बाद मुफस्सिल थाना क्षेत्र के कल्याण चक गांव में भी बंटी यादव के घर छापामारी की गई, जहां से एक देशी पिस्तौल और थ्री नॉट थ्री की एक जिंदा गोली बरामद की गई. पूरबसराय ओपी क्षेत्र के कृष्णापुरी मोहल्ले में उसके रिश्तेदार के यहां भी छापामारी के दौरान पुलिस को एक लोडेड देशी राइफल तथा तीन गोलियां मिली. पुलिस ने यहां से सौरभ राज उर्फ छोटू को गिरफ्तार किया.

कई का है आपराधिक इतिहास

गिरफ्तार अपराधियों में सत्यम यादव, सूरज यादव और राणा यादव उर्फ राणा बॉस का अपराधिक इतिहास रहा है. सूरज यादव और राणा यादव की तलाश जमालपुर थाना क्षेत्र में हुए हत्या के दो मामले में भी चल रही थी. इसके अलावा जदयू नेता जुगनू मंडल की हत्या में भी अपराधियों ने अपनी संलिप्तता स्वीकार की है. सभी सात अभियुक्तों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज